मिशन-शक्ति अभियान के तहत बेटियां बनी एक दिन की सांकेतिक थानाध्यक्ष, भ्रमण कर चलाया चेकिंग अभियान

- महिलाओं को स्वावलंबी व बनाने की है सरकार की मंशा

By: Neeraj Patel

Published: 29 Jan 2021, 07:59 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
बलरामपुर. जिले में 17 अक्टूबर 2020 को यूपी के बलरामपुर जिले से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिशन-शक्ति अभियान का शुभारंभ किया था। इस अभियान का उद्देश्य हर बेटी-हर महिला का सम्मान और सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ-साथ उनको स्वावलंबी बनाना है। इसी क्रम में 24 जनवरी बिटिया दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ ने बेटियों को स्वावलंबी व आत्मनिर्भर बनाने का आवाहन किया। जिसके बाद से जिले में बेटियों को सम्मान देने के लिए विभिन्न सरकारी कार्यालयों में एक दिवस का अधिकारी बनाया जा रहा है।

प्रदेश में महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा एवं सम्मान एवं स्वावलंबन हेतु मिशन शक्ति अभियान का संचालन किया जा रहा है। मिशन शक्ति अभियान के तहत जिले भर में बेटियों को 1 दिन के लिए सांकेतिक थाना अध्यक्ष बनाया गया। थाना अध्यक्ष बनने के बाद बेटियों ने पुलिस की कार्यशैली को जाना। कोतवाली देहात में जीसस एंड मैरी स्कूल के कक्षा 10 की छात्रा निशा जायसवाल को 1 दिन का प्रभारी बनाया गया। प्रभारी बनने के बाद निशा ने कोतवाली देहात में शस्त्रागार, बंदी गृह, कंप्यूटर कक्ष, महिला हेल्प डेस्क सहित अभिलेखों के रखरखाव की जानकारी ली।

थाना अध्यक्ष बनी निशा ने कोतवाली देहात में आए फरियादियों की फरियाद सुनी और उन्हें अपना सुझाव दिया। निशा जयसवाल ने कहा कि महिला सुरक्षा के लिए आत्मविश्वास की जरूरत है। सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं के तहत महिलाओं को स्वावलंबी व आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है, लेकिन महिलाओं को भी चाहिए कि वह शारीरिक रूप से आत्मनिर्भर बने, जिससे वह किसी भी परिस्थितियों का सामना कर सकें।

लोगों को यातायात के नियमों की दी जानकारी

कोतवाली नगर में 1 दिन के लिए एमएलके महाविद्यालय की छात्रा शुभी पांडे को प्रभार सौंपा गया। थाना अध्यक्ष बनने के बाद शुभी ने थाना परिसर का निरीक्षण किया और रजिस्टर 4 की जानकारी ली। इस दौरान शुभी ने वाहन चेकिंग अभियान चलाया और लोगों को यातायात के नियमों की जानकारी दी।अपर पुलिस अधीक्षक अरविंद मिश्र ने कहा कि सरकार की मंशा महिलाओं को स्वावलंबी व बनाने की है। जिस के क्रम में आज जिले के थानों में बेटियों को 1 दिन का थाना अध्यक्ष बनाया। जिससे वह पुलिस की कार्यशैली को जान सके और समाज में अन्य महिलाओं को जागरूक कर सकें।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned