scriptडीएम के प्रयास से विकास को लगेंगे पंख, मार्केटिंग के क्षेत्र में टाटा कंपनी के साथ होगा एमओयू | Patrika News
बलरामपुर

डीएम के प्रयास से विकास को लगेंगे पंख, मार्केटिंग के क्षेत्र में टाटा कंपनी के साथ होगा एमओयू

यूपी के इस जिले को डीएम के प्रयास से विकास के साथ-साथ बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर मिलेंगे। जल्द ही राज्य सरकार जिला प्रशासन बलरामपुर और टाटा ग्रुप के बीच एमओयू हो सकता है।

बलरामपुरJun 16, 2024 / 05:40 pm

Mahendra Tiwari

Balrampur hindi news

टाटा ग्रुप के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करते डीएम बलरामपुर अरविंद सिंह

बलरामपुर जिले को डीएम के विशेष प्रयास से कृषि सहित विभिन्न क्षेत्रों में टाटा समूह के साथ मिलकर एक नए आयाम स्थापित करेगा। जिससे जिले के विकास के साथ-साथ युवाओं को यहां पर रोजगार के अवसर मिलेंगे। टाटा ग्रुप मुंबई कृषि, उद्यान, वानिकी, बाढ़ प्रबन्धन, मत्स्यपालन और मार्केटिंग के क्षेत्र में बड़े स्तर पर प्रशासन का सहयोग करेगा।
बलरामपुर के डीएम के साथ टाटा ग्रुप के प्रतिनिधियों की एक बैठक संपन्न हुई। विकास कार्यों में बड़े स्तर पर टाटा ग्रुप प्रशासन को तकनीक एवं अन्य स्तर पर सहयोग करेगा। जिले में किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत करने तथा नई-नई तकनीक के माध्यम से कृषि, मत्स्य पालन, जलाशयों की डिसिलटिंग फूलों की खेती और उसकी मार्केटिंग गन्ने के उत्पादन बढ़ाने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने किए गए बड़े-बड़े कार्य एवं इस्तेमाल की जा रही है। तकनीको का सहयोग लेने के लिए डीएम ने टाटा ग्रुप मुंबई से संपर्क किया। इसको लेकर रविवार को टाटा ग्रुप मुंबई से आए वरिष्ठ प्रतिनिधियो के साथ अपने आवास पर बैठक कर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। जिस पर टाटा ग्रुप ने प्रशासन के साथ सहयोग एवं काम करने की सहमति दे दी है। जल्द ही राज्य सरकार, जिला प्रशासन बलरामपुर और टाटा ग्रुप के बीच MOU भी हो सकता है। फूलों सहित विभिन्न कृषि उत्पाद की मार्केटिंग के लिए तैयार हो रही रणनीतिडीएम के निर्देशन में रेहरा बाजार में बड़े पैमाने पर फूलों की खेती कराई जा रही है। तथा इसकी मार्केटिंग को अयोध्या धाम लखनऊ एवं गोरखपुर से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे किसानों को उपज का अच्छा मूल्य मिले। उनकी आय में वृद्धि हो सके। कृषि एवं औद्यानिक उत्पादों तथा मत्स्य उपज को लखनऊ एयरपोर्ट के माध्यम से देश विदेश भेजने को लेकर रणनीति पर भी काम किया जाएगा। जिले की प्रमुख नदी राप्ती एवं बड़े जलाशयों में जमा सिल्ट की सफाई नियमों के तहत कैसे की जाए। जिससे सिल्ट की सफाई के बाद जलाशय में पूरी क्षमता से पानी स्टोर हो सके। जिले को बाढ़ जैसी विभीषिका से रोका जा सके। जलाशयों के पानी का उपयोग किस प्रकार सिंचाई एंव मत्स्य पालन एवं अन्य कार्यों में उपयोग किया जाए। इस पर भी गहन चर्चा हुई। डीएम ने टाटा ग्रुप के प्रतिनिधि के साथ गन्ने की उत्पादकता में कैसे वृद्धि की जा सके एवं उत्पादकता वृद्धि के लिए किस प्रकार के प्रद्योगिकी का प्रयोग किया जा सके। इसके विषय में जिलाधिकारी अरविंद सिंह ने महाराष्ट्र से आये टाटा ग्रुप के प्रतिनिधियों से व्यापक परिचर्चा की। इस परिचर्चा में महाराष्ट्र से आए टाटा ग्रुप के प्रतिनिधि से जिलाधिकारी ने जिले में कराया जा रहे बड़े विकास कार्य एवं इनोवेशन की सराहना की। टाटा मोटर्स ने पूरा सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया। इस संबंध में जिलाधिकारी ने बताया कि पुनः बैठक कर विस्तृत कार्य योजना तैयार कराई जाएगी। तथा शासन एंव प्रशासन तथा टाटा ग्रुप के बीच त्रिस्तरीय एमओयू किया जाएगा।

Hindi News/ Balrampur / डीएम के प्रयास से विकास को लगेंगे पंख, मार्केटिंग के क्षेत्र में टाटा कंपनी के साथ होगा एमओयू

ट्रेंडिंग वीडियो