तहसील दिवस में अनुपस्थित रहना 4 अधिकारियों​ को पड़ा महंगा​,​ डीएम ने दिए वेतन काटने का आदेश

जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस तहसील दिवस मंगलवार को तुलसीपुर तहसील सभागार में आयोजित किया गया।

By: आकांक्षा सिंह

Published: 16 May 2018, 02:13 PM IST

बलरामपुर. जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस तहसील दिवस मंगलवार को तुलसीपुर तहसील सभागार में आयोजित किया गया। तहसील दिवस में अनुपस्थित रहना अधिकारियों को काफी महंगा पड़ा। डीएम कृष्णा करुणेश ने सख्त रुख अख्तियार करते हुए अनुपस्थित रहे अधिकारियों व कर्मचारियों का वेतन काटने का आदेश जारी किया है। जिनमें चार जिला स्तरीय अधिकारी भी शामिल हैं। तहसील उतरौला में अपर जिलाधिकारी अरुण कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया वहीं सदर तहसील सभागार में एसडीएम अरुण कुमार गौड़ की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया । तीनों तहसीलों पर आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में आए कुल 200 प्रार्थना पत्रों में से 17 का मौके पर निस्तारण कराया गया तथा शेष के शीघ्र निस्तारण का आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए गए।


मिली जानकारी के अनुसार जनपद के तीनों तहसीलों पर आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में आए कुल 200 मामलों में से 17 का मौके पर निस्तारण कराया गया। जिलाधिकारी कृष्णा करुणेश ने समस्त अधिकारियों तथा कर्मचारियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि तहसील दिवस में आने वाली शिकायतों का समय से निस्तारण करें। समय से निस्तारण ना करने वाले अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी। उन्होंने तहसील दिवस में अनुपस्थित रहे जिला समाज कल्याण अधिकारी राजेश कुमार, जिला उद्योग महाप्रबंधक, पीडब्ल्यूडी प्रांतीय खंड के अभियंता मेघ प्रकाश, अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण सैयद हैदर मेहंदी सहित चार जिला स्तरीय अधिकारियों का एक दिन का वेतन काटने के साथ स्पष्टीकरण तलब किया है । जिला अधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि आईजीआरएस पोर्टल पर आने वाली शिकायतों का समय से पारदर्शिता के साथ गंभीरतापूर्वक निस्तारण करें । शिकायतों के निस्तारण में किसी भी प्रकार की शिथिलता या हिला हवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी और शिथिलता बरतने वाले अधिकारी कर्मचारी दंडित होने के लिए तैयार रहें ।

उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिया कि वह जिले के समस्त गांव में स्वच्छता बनाए रखने के लिए टीम बनाकर 15 दिन पर निरीक्षण करवाएं और लोगों को जागरुक करें ताकि स्वक्षता बना रहे और आने वाले बरसात में किसी भी प्रकार की बीमारी ना फैलने पाए। संपूर्ण समाधान दिवस में कुल 37 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए जिसमें से दो का मौके पर निस्तारण कराया गया तथा शेष का शीघ्र निस्तारण करने का निर्देश डीएम ने संबंधित अधिकारियों को दिए । तहसील दिवस में पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार, सीएमओ डॉक्टर घनश्याम सिंह, डीएफओ रुस्तम, डीडियो शिवकुमार, एसडीएम सतीश कुमार त्रिपाठी, तहसीलदार कृष्ण गोपाल त्रिपाठी, पीडी जनार्दन सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी बृजेश कुमार मिश्र, खाद्य एवं विपणन अधिकारी विनय प्रताप सिंह, पिछड़ा वर्ग उपनिदेशक यादवेंद्र सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी शीतला प्रसाद सिंह, अधिशासी अभियंता जल निगम मनोज कुमार सिंह, अधिशासी अभियंता नलकूप व समस्त थाना अध्यक्ष तथा अन्य जिला स्तरीय अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे ।


तहसील उतरौला सभागार में अपर जिला अधिकारी अरुण कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया । समाधान दिवस में कुल 127 प्रार्थना पत्र आए जिस को गंभीरता पूर्वक सुनवाई करते हुए बारह का मौके पर निस्तारण कर दिया गया । साथ में एसडीएम भरत लाल सरोज, तहसीलदार लालजी विश्वकर्मा व अन्य तहसील स्तरीय अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे ।सदर तहसील सभागार में उप जिला अधिकारी अरुण कुमार गौड़ की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया । समाधान दिवस में आए 46 प्रार्थना पत्रों में से 3 का मौके पर निस्तारण भी कराया गया । समाधान दिवस के दौरान तहसीलदार रोहित कुमार सहित अन्य कई अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे ।

Show More
आकांक्षा सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned