डूंडा में व्याप्त भ्रष्टाचार की 5 टीमें करेंगे जांच, एक पटल पर कई वर्षों से तैनात कर्मचारी हटेंगे

डूंडा में व्याप्त भ्रष्टाचार की 5 टीमें करेंगे जांच, एक पटल पर कई वर्षों से तैनात कर्मचारी हटेंगे

Akansha Singh | Updated: 18 Jun 2019, 10:26:39 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

शहरी विकास अभिकरण डूडा में भ्रष्टाचार की जांच 5 टीमें में करेंगे कई वर्षों से एक ही पटल पर तैनात कर्मचारियों का पटल परिवर्तन किया जाएगा।

बलरामपुर. शहरी विकास अभिकरण डूडा में भ्रष्टाचार की जांच 5 टीमें में करेंगे कई वर्षों से एक ही पटल पर तैनात कर्मचारियों का पटल परिवर्तन किया जाएगा। सरकारी निर्णय अप एनआईसी पर अपलोड कर लीडिंग अखबारों में अवश्य प्रकाशित कराई जाएंगी। यह आदेश सोमवार को डीएम कृष्णा करुणेश ने भाजपा जिला मीडिया प्रभारी डीपी सिंह की शिकायत पर दिए हैं।

डीपी सिंह ने शिकायत में कहा है कि एक ही पटल पर कई वर्षों से तैनात कर्मी मनमानी कर रहे हैं। शासन की मंशा के अनुरूप उनका पटल परिवर्तन कराया जाए। डूडा में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत व्यापक भ्रष्टाचार किया जा रहा है। पात्रों के चयन में मनमानी की जा रही है, तथा लोगों से सुविधा शुल्क की वसूली की जा रही है। गत 7 चयनित पात्रों के खाते में ₹50000 खातों में डाल दिया गया लेकिन सुविधा शुल्क ना मिलने के कारण अपात्र घोषित करके उन लोगों के विरुद्ध एफ आई आर दर्ज कर खाता सील करा दिया गया। जिससे गरीब लोग अपना पैसा भी नहीं निकाल पा रहे हैं। जिन्होंने जांच की थी पात्रता की उन लोगों के विरुद्ध 1 वर्ष बीतने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई।तमाम विभाग बिना टेंडर प्रकाशित कराए चोरी से अपने सेटिंग कर संस्थाओं एवं व्यक्तियों से कार्य करा रहे हैं। डीएम ने सभी शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए उपरोक्त आदेश दिया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned