दलित युवक से ग्राम प्रधान ने हड़पी पीएम आवास योजना की किश्त, हताश होकर युवक ने दी आत्मदाह की धमकी

दलित युवक से ग्राम प्रधान ने हड़पी पीएम आवास योजना की किश्त, हताश होकर युवक ने दी आत्मदाह की धमकी

Akansha Singh | Publish: Sep, 06 2018 01:22:58 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बलरामपुर में एक एससी/एसटी युवक के उत्पीड़न का मामला सामने आया है।

बलरामपुर. बलरामपुर में एक एससी/एसटी युवक के उत्पीड़न का मामला सामने आया है। यहां ग्राम प्रधान प्रतिनिधि द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना में हेर फेर करते हुए प्रधानमंत्री आवास योजना की दूसरी क़िश्त को हड़प लिया है। विरोध करने पर उसे मारा पीटा और गालियां भी दी। पीड़ित युवक करीब 8 महीने से अधिकारियों के चक्कर काट रहा है लेकिन न तो पुलिस प्रशासन और ना ही जिला प्रशासन उसकी कोई शुध ले रहा है। युवक ने अब हताश व निराश होकर अपनी जान देने का फैसला कर लिया है। उसने प्रशासन को चेतावनी देते हुए एक प्रार्थना पत्र दिया है कि उसके मामले में प्रशासन द्वारा यदि कोई कार्रवाई नहीं की जाती है तो 6 सितंबर को जिलाधिकारी कार्यालय में के सामने वह आत्मदाह कर लेगा।

मामला पचपेड़वा थाना क्षेत्र के ग्राम मध्य नगर का है जहां के रहने वाले सुखदेव कुरील करीब 8 महीनों से अधिकारियों की चौखट पर एड़ियां रगड़ रहे हैं लेकिन उनके साथ हुई घटना की FIR तक दर्ज नहीं हो सकी। सुखदेव का आरोप है कि प्रधानमंत्री आवास योजना में आये क़िस्त की रकम में से गांव के ही ग्राम प्रधान के प्रतिनिधि सुभाष ने उनसे ₹30000 जबरन छीन लिए और विरोध करने पर उसे बुरी तरह मारा-पीटा व जातिसूचक गाली दी। 8-12-17 से ही सुखदेव कुरील अधिकारियों को प्रार्थना पत्र पर प्रार्थना पत्र देते चले आ रहे हैं लेकिन ना तो पुलिस प्रशासन और ना ही जिला प्रशासन ने अब तक कोई सुध ली है अधिकारियों के ऐसे लचर रवैया से हताश निराश होकर अब सुखदेव कुरील ने मौत का दामन थामने का फैसला कर लिया है और उन्होंने जिलाधिकारी को एक पत्र देकर यह चेतावनी दी है कि यदि उन के मामले में संतोषजनक कार्रवाई नहीं की गई तो 6 सितंबर को जिलाधिकारी कार्यालय के सामने आत्मदाह कर लेंगे।

पूरे मामले पर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया की घटना काफी पुरानी बताई जा रही है। प्रार्थना पत्र तो आया है परंतु उस पर हम कोई कार्रवाई नहीं कर सकते हैं। जिलाधिकारी महोदय को मामले से अवगत करा दिया गया है उन्होंने टीम बनाकर जांच कराने की बात कही है फिलहाल उसे आत्महत्या का प्रयास करने से यथासंभव रोका जाएगा। जरूरत पड़ी तो उसे हिरासत में गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned