कैमरे के माध्यम से ऐसे होगी स्वास्थ्य कर्मियों की निगरानी

स्वास्थ्य कर्मियों की मनमानी पर अंकुश लगाने के लिए स्वास्थ्य महकमे ने कमर कस ली है।

By: Mahendra Pratap

Updated: 07 Jun 2018, 07:39 AM IST

बलरामपुर. जनपद में स्वास्थ्य कर्मियों की मनमानी पर अंकुश लगाने के लिए स्वास्थ्य महकमे ने पूरी तरह से कमर कस ली है। जिससे मरीजों को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। इसके लिए अब प्रत्येक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर हर जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। सीएचसी अधीक्षक अपने कक्ष से अस्पताल में होने वाली गतिविधियों पर नजर रखने के लिए ये कैमरे लगवाए हैं। जिससे स्वास्थ्य कर्मियों की मनमानी पर अंकुश लगाया जा सके।

9 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र संचालित

जिले में 9 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र संचालित हो रहे हैं। आए दिन अस्पताल में कर्मियों के द्वारा सुविधा शुल्क लिए जाने की शिकायत आम हो गई है। जिससे स्वास्थ्य महकमे के अफसरों की कार्यशैली पर अंगुलियां उठने लगी हैं। इसू कार्यशैली को देखते हुए एक अफसर की मानें तो स्वास्थ्य केंद्रों के प्रत्येक कक्ष में सीसीटीवी कैमरा लगवाया जा रहा है। रोगी कल्याण समिति से इसकी खरीदारी भी शुरू हो चुकी है। इसका मकसद कर्मियों पर नजर रखने के साथ अस्पताल में होने वाली गतिविधियों भी नजर रखना है।

8 सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके और 6 बांकी

अधीक्षक डॉ सुमंत ने बताया है कि अभी तक 8 सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं। 6 कैमरे और लगाए जाने बांकी हैं। वह अपने कक्ष में बैठकर अस्पताल में होने वाली सभी गतिविधियों पर नजर रखेंगे। जिससे स्वास्थ्य कर्मियों की मनमानी पर अंकुश लगाया जा सकेगा। सीएमओ डॉ. घनश्याम सिंह ने बताया कि तुलसीपुर में अभी सीसीटीवी कैमरा लगवाए जा रहे हैं। शीघ्र ही सभी अस्पतालों में सीसीटीवी कैमरा लगवा दिया जाएगा। जिससे स्वास्थ्य कर्मियों पर अंकुश लगेगा। इसके साथ ही मरीजों की सेहत के साथ कोई खिलवाड़ भी नहीं किया जा सकेगा।

ओपीडी करने का निर्देश

सुशीला, प्रदीप, दिनेश, राजमन ने बताया कि डॉक्टर एक घंटे से नहीं है। कई लोग खाली कुर्सी देखकर लौट चुके हैं। इस पर सीएमएस डॉ. राजेश मोहन गुप्त का कहना है कि डॉ. एनके बाजपेई 11 मई तक छुट्टी पर हैं। डॉ. नितिन आगरा प्रशिक्षण में गए हुए हैं। जबकि 12.30 बजे सर्जन डॉ. आरपी मिश्र ऑपरेशन कर रहे थे। कहाकि सभी चिकित्सकों को समय से ओपीडी करने का निर्देश दिया गया है। लापरवाही करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned