योगी सरकार ने बलरामपुर को दिया तोहफा, केजीएमयू के सैटेलाइट सेन्टर की होगी स्थापना

Akansha Singh

Publish: Sep, 07 2018 01:19:27 PM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India

बलरामपुर. पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेई की राजनैतिक जन्मस्थली बलरामपुर को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक बड़ा तोहफा दिया है। प्रदेश सरकार ने बलरामपुर में किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय का सेटेलाइट सेन्टर बनाने का निर्णय लिया है। इसके लिये सरकार ने अनुपूरक बजट में पांच करोड़ रुपये की व्यवस्था भी कर दी है।

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई को 1957 में पहली बार संसद भेजने का गौरव हासिल करने वाले बलरामपुर को योगी सरकार ने एक बड़ा तोहफा दिया है। अटल जी के नाम पर यहां केजीएमयू के सैटेलाइट सेन्टर की स्थापना का रास्ता साफ हो गया है। जिला प्रशासन ने सैटेलाइट सेन्टर की स्थापना के लिये सदर ब्लाक के बहदुरापुर में 25 एकड जमीन का प्रस्ताव भी शासन को भेंज दिया है। सरकार की घोषणा को साकार करने के लिये के केजीएमयू की टीम भी निरीक्षण के लिये बलरामपुर पहुंच गयी।

केजीएमयू के सैटेलाइट सेन्टर के लिये लगभग सौ एकड़ जमीन की आवश्यकता होगी। 25 एकड़ में बने संयुक्त चिकित्सालय को भी उसी सैटेलाइट सेन्टर का हिस्सा बना दिये जाने के बाद भी अभी 50 एकड़ जमीन की और जरुरत है। तमाम मेडिकल सुविधाओं को जनता तक पहुँचाने के लिये उच्चस्तरीय मेडिकल स्टाफ और संसाधनों की आवश्यकता है।

केजीएमयू की टीम ने माना कि जमीन उपलब्ध होने के बाद शीघ्र ही यहां अत्याधुनिक मेडिकल कालेज व सैटेलाइट सेन्टर का काम शुरु कर दिया जायेगा। देश के अति पिछड़े 115 जिलों में शामिल बलरामपुर के लिये केजीएमयू का सैटेलाइट सेन्टर किसी सौगात से कम नहीं।

Ad Block is Banned