इस नवरात्र पर अगर देवीपाटन शक्तिपीठ हुए दर्शन, तो होगा ये चमत्कार

इस नवरात्र पर अगर देवीपाटन शक्तिपीठ हुए दर्शन, तो होगा ये चमत्कार

Mahendra Pratap Singh | Publish: Oct, 13 2018 04:18:35 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

जनपद बलरामपुर में स्थित देवीपाटन शक्तिपीठ पर शारदीय नवरात्र में दर्शन पूजन हेतु श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुट रही है।

बलरामपुर. जनपद बलरामपुर में स्थित देवीपाटन शक्तिपीठ पर शारदीय नवरात्र में दर्शन पूजन हेतु श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जुट रही है। देश के विभिन्न प्रांतों के अलावा पड़ोसी देश नेपाल से भी बड़ी सख्या में लोग दर्शन करने के लिए आ रहे है।

जानकारी के अनुसार बलरामपुर में भारत नेपाल सीमा के निकट तुलसीपुर नगर में स्थित देवीपाटन शक्तिपीठ पर शारदीय नवरात्रि में पूजन अर्चन हेतु श्रद्धालु प्रातः काल से ही कतारों में लगकर मां पाटेश्वरी का दर्शन पूजन कर रहे हैं। कोई मन्नतें मांग कर मां के चरणों में नारियल चुनरी भेंट कर रहा है तो कोई मन्नतें पूरी होने पर। देश प्रदेश के अलावा पड़ोसी देश नेपाल से भी बड़ी संख्या में भक्त मां के दर्शन पूजन हेतु पहुंच रहे हैं। यूं तो यहां साल भर श्रद्धालु आते रहते हैं लेकिन नवरात्रि के पर्व पर विशेष पूजन हेतु भक्त जरूर आते है।

रक्षा एवं ठहरने का विशेष प्रबंध

श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए मंदिर प्रशासन द्वारा सुरक्षा एवं ठहरने का विशेष प्रबंध किया गया है। क्लोज सर्किट कैमरे द्वारा मंदिर परिसर की निगरानी की जा रही है पुलिस प्रशासन भी विशेष सतर्कता बरत रहा है। देवीपाटन मंदिर के महंत मिथिलेश नाथ योगी ने बताया की इस शक्तिपीठ का संचालन गोरक्ष पीठ के अधीन है और गोरक्ष पीठ के पीठाधीश्वर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ है। इसलिए भी शक्तिपीठ देवीपाटन में आने वाले समय में सुविधाओं का तेजी से विकास होगा। अभी तक दर्शनार्थियों के लिए मंदिर प्रबंधन द्वारा ही सारी व्यवस्थाएं कराई जाती थी परंतु अब सीएम योगी ने देवीपाटन मेले को राज्य के मेले का दर्जा प्रदान कर दिया है जिसके बाद अब सरकारी सहायता से मेले के प्रबंधन में काफी व्यवस्थाएं बढ़ाई जाएंगी और यहां पर आने वाले दर्शनार्थियों को तमाम सारी सुविधाएं मिल पाएंगे।

देवीपाटन को पर्यटन से जोड़ने की घोषणा

मुख्यमंत्री ने देवीपाटन को पर्यटन क्षेत्र घोषित करने का ऐलान पहले ही कर दिया था वहीं केंद्र सरकार ने भी देवीपाटन को पर्यटन कारीडोर से जोड़ने की घोषणा की है। इससे यह स्पष्ट होता है कि आने वाले वर्षों में क्षेत्र का तेजी से विकास होगा। पर्यटन विभाग द्वारा तथा कुछ प्राइवेट सेक्टर द्वारा भी यात्रियों के लिए होटलों का निर्माण कराया जाएगा साथ ही आने जाने के संसाधन में भी वृद्धि होगी और सड़कों का चौड़ीकरण भी किया जाएगा।

Ad Block is Banned