पुलिसकर्मियों द्वारा शामली में हुए पत्रकार की पिटाई से पत्रकारों में रोष, बर्खास्तगी की मांग

पुलिसकर्मियों द्वारा शामली में हुए पत्रकार की पिटाई से पत्रकारों में रोष, बर्खास्तगी की मांग

Akansha Singh | Publish: Jun, 13 2019 07:36:09 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

शामली में कवरेज कर रहे पत्रकार की पुलिस द्वारा किये गये पिटाई व अमानवीय कृत्यों के खिलाफ यूपी वर्किंग जॉर्नलिस्ट यूनियन बलरामपुर इकाई ने अपना गुस्सा जाहिर किया है।

बलरामपुर. शामली में कवरेज कर रहे पत्रकार की पुलिस द्वारा किये गये पिटाई व अमानवीय कृत्यों के खिलाफ यूपी वर्किंग जॉर्नलिस्ट यूनियन बलरामपुर इकाई ने अपना गुस्सा जाहिर किया है। बलरामपुर यूपीडब्लूजेयू के राष्ट्रीय पार्षद सर्वेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में पदाधिकारियों की एक आपात बैठक जिला कार्यालय रानी धर्मशाला में हुई। इस अवसर पर शामली प्रकरण की कड़े शब्दों में निंदा की गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय पार्षद सर्वेश कुमार सिंह ने कहा कि शामली में जिस तरह से न्यूज़ 24 के पत्रकार के साथ ज्यादती हुई है वह किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि पत्रकार तमाम जोखिम के बावजूद अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन समाज हित में करते हैं। यदि उनके साथ इस तरह की घटनाएं होंगी तो मनोबल कम होगा। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं को शामली ही नहीं अन्य जिलों में भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बैठक के बाद यूनियन के पदाधिकरियों व सदस्यों ने मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन अपर जिलाधिकारी अरुण कुमार शुक्ला को सौंपा। ज्ञापन सौपने के बाद यूनियन के कार्यकारी अध्यक्ष डीपी सिंह ने कहा यह घटना अत्यंत निंदनीय है और लोकतंत्र पर कुठाराघात की है। इस घटना से पूरा पत्रकारजगत काफी आहत हैं और आरोपी जीआरपी इंस्पेक्टर व संलिप्त सभी पुलिस कर्मियों को बर्खास्त किये जाने की मांग करते हैं। इस घटना से पीड़ित पत्रकार की मानहानि हुई है। संगठन ने पत्रकार को उचित मुआवजा देने की मांग की है।

बता दें कि 11 जून 2019 की रात शामली जिले में डिरेल्ड हुई ट्रेन की कवरेज करने गए पत्रकार की जीआरपी कर्मियों के द्वारा बेरहमी से पिटाई की गई। पिटाई करने वालों में जीआरपी शामली के इंस्पेक्टर व अन्य पुलिसकर्मी शामिल हैं। पीड़ित पत्रकार ने कुछ दिन पूर्व अवैध बेंडरिंग की खबर चलाई थी जिससे शामली के जीआरपी के पुलिसकर्मी काफी नाराज थे। बीती रात मालगाड़ी रेल की कवरेज करने गए पत्रकार को देखकर जीआरपी इंस्पेक्टर राकेश कुमार व अन्य पुलिसकर्मी भड़क गए और पिटाई करने लगे पिटाई करने के बाद पीड़ित पत्रकार को हवालात में ले जाकर बंद कर दिया। ज्ञापन सौंपने के दौरान यूनियन के अध्यक्ष राकेश कुमार सिंह, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अखिलेश्वर तिवारी, संगठन सचिव लाल जी सिंह, अमित श्रीवास्तव, वेद प्रकाश मिश्रा तमाम पदाधिकारी व वरिष्ठ सदस्य मौजूद रहे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned