scriptSamajwadi Party protest for Firoz Khan and Pappu murder in Balrampur | सीसीटीवी कैमरे से खुल सकते पूर्व चेयरमैन की हत्या के राज, पुलिस ने फुटेज को किया सुरक्षित | Patrika News

सीसीटीवी कैमरे से खुल सकते पूर्व चेयरमैन की हत्या के राज, पुलिस ने फुटेज को किया सुरक्षित

बलरामपुर तुलसीपुर नगर पंचायत के पूर्व चेयरमैन व वर्तमान चेयरमैन पति सपा नेता फिरोज पप्पू की देर रात्रि अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से उनकी हत्या कर दी है। घटना की सूचना मिलते ही रात्रि में पुलिस अधीक्षक ने पहुंच घटना स्थल का जायजा लिया है। घटना के बाद से नगर में एहतियातन सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

बलरामपुर

Published: January 05, 2022 09:51:06 pm


बताते जाता है कि सपा नेता फिरोज पप्पू लखनऊ से रात्रि में वापस घर पहुंचे थे। घर के बाहर ही अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से उनकी हत्या कर दी । परिजन जब तक अस्पताल पहुंचाते उनकी मौत हो गई । स्वास्थ्य अधीक्षक तुलसीपुर डा. सुमंत सिंह चौहान ने बताया कि गले पर गहरें घाव के निशान थे। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने पहुंच गहन जांच पड़ताल किया । फिरोज पप्पू के हत्या की सूचना फैलते ही स्थानीय सपा,भाजपा व अन्य संगठनों के नेताओं ने दुख जताते हुए घटना की निंदा की है।
ip.jpeg

सीसी कैमरे की फुटेज में चेहरा ढके पांच हमलावर दिखाई पड़े हैं। इसमें दो गली में पहले से मौजूद दिख रहे हैं। तीन लोग बाद में बाइक से पहुंचे थे। रात में ही पुलिस उपमहानिरीक्षक उपेंद्र अग्रवाल व एसपी हेमंत कुटियाल ने मौके पर पहुंचकर जायजा लिया। पुलिस ने सीसी कैमरा फुटेज अपने पास सुरक्षित रख लिया है। तीन चिकित्सकों के पैनल ने करीब दो घंटे शव का पोस्टमार्टम किया।
मंगलवार रात करीब 11 बजे पूर्व चेयरमैन अपने आवास के पास गली में पहुंचे थे। वहां पहले से घात लगाए दो लोग मौजूद थे। गली में नाली बन रही थी, जिसकी वजह से रास्ते में खोदाई की गई थी। पूर्व चेयरमैन मुख्य मार्ग पर गाड़ी से उतरकर पैदल ही अपने आवास पर जा रहे थे। इसी बीच हमलावरों ने भारी हथियार से हमला कर दिया। उनके सिर पर आगे व पीछे ताबड़तोड़ वार किया। सीसी कैमरे की फुटेज के अनुसार जब हमलावरों ने हमला करना शुरू किया तो फिरोज ने अपनी जेब से रिवाल्वर निकालने की कोशिश की। इससे पहले वह गिर पड़े। हमलावरों ने बगल से उनका गला रेत दिया। रिवाल्वर भी लेकर चले गए। पांचों हमलावरों के चेहरे ढके हुए थे। उनका दुस्साहस इतना था कि हमला करके जाने के कुछ पल बाद फिर लौटकर उनकी मौत होने की पुष्टि की। इसके बाद सभी फरार हो गए। सुनसान गली में कुछ देर वह पड़े रहे। मुहल्ले के एक किशोर ने पड़ोसी का दरवाजा खटखटा कर बताया कि पूर्व चेयरमैन चक्कर खाकर गिर पड़े हैं। मुहल्लेवासियों ने फिरोज के सहयोगी मुशीर पप्पू व पुलिस को सूचना दी। आनन-फानन में पूर्व चेयरमैन को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां डा. सुमंत सिंह चौहान ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना की सभी विंदुओं पर जांच की जा रही है । जल्द ही घटना का खुलासा किया जायेगा।
सपा नेता बोले 24 घंटे के भीतर गिरफ्तारी ना हुई तो होगा आंदोलन

समाजवादी पार्टी में पूर्व मंत्री डॉ एस पी यादव तथा समाजवादी लोहिया वाहिनी के राष्ट्रीय सचिव डॉ भानु त्रिपाठी ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि 24 घंटे के अंदर हत्यारों तथा साजिश कर्ताओ को गिरफ्तार नहीं किया गया तो सपा के लोग सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेंगे । दोनों नेताओं ने योगी सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था समाप्त हो चुकी है गुंडाराज चल रहा है । अपराधी खुलेआम हत्या जैसी घटना को अंजाम दे रहे हैं। जिसके विरोध में समाजवादी पार्टी सड़कों पर उतरेगी ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.