पुलिस पर फायरिंग करने वाले दो बदमाश गिरफ्तार

पुलिस पर फायरिंग करने वाले दो बदमाश गिरफ्तार

Ashish Kumar Pandey | Publish: Feb, 15 2018 07:15:44 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

दो अवैध असलहे और 11 कारतूस बरामद

बलरामपुर-यूपी के बलरामपुर में पुलिस ने मुथभेड़ में दो शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। मुथभेड़ के दौरान दोनों बदमाशों व पुलिस के बीच कई राउंड फायरिंग भी हुई। दोनों बदमाशों ने एक दिन पहले दिनदहाड़े एसडीएम सदर के अर्दली के घर पर चढ़कर उनके बेटे पर फायरिंग भी की थी।
मामला है कोतवाली नगर कालीथान चैराहे का। बीती देर रात पुलिस को सूचना मिली कि असलहे से लैस दो बदमाश बिना नम्बर की बाइक से जा रहे हैं। मिली सूचना पर कोतवाली नगर व देहात की पुलिस ने नाकेबंदी कर चेकिंग शुरू कर दी। कोतवाली देहात की पुलिस ने जैसे ही बाइक पर सवार नकाबपोश बदमाशों को देखा, रोकने की कोशिश की उन्होने फायरिंग शुरू कर दी और बाइक की रफ्तार बढ़ा दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी बदमाशों पर फायरिंग की। पुलिस ने फायरिंग से बचते हुए उनका पीछा किया और दबोच लिया। पकड़े गये बदमाशों की पहचान शिवा सिंह पुत्र शैलेन्द्र कुमार सिंह व अंशुमान आदित्य सिंह निवासी थाना कोतवाली नगर के रूप में हुई है। बदमाशों के पास से देशी पिस्टल 32 बोर, देशी कट्टा 315 बोर, एक मैगजीन और 11 जिंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं। पूछताछ में बदमाशों ने बताया कि एक दिन पहले उन्होने एसडीएम सदर के अर्दली के बेटे शिवा तिवारी से मामूली विवाद में उसके घर छोटा परेड़ ग्राउंड के पास चढ़कर फायरिंग की थी जिसमें वो बाल बाल बच गया। घटना के बाद मौके पर हड़कंप मच गया और पुलिस को सूचना दी गयी। पुलिस ने गिरफ्तार दोनों बदमाशों को जेल भेज दिया है बड़ी बात ये है कि दोनों गिरफ्तार बदमाश 18 से 22 साल के उम्र के है और अभी तक इनका कोई आपराधिक रिकार्ड नहीं है। इनके पास अवैध असलहे कहां से आये और जिले में इसका सप्लायर कौन है पुलिस इसकी पड़ताल में जुट गई है। पुलिस ने कहा कि जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी की जायेगी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned