सरकारी गौशाला में बिजली का गिरा तार, 21 गायों की हुई मौत

शुक्रवार को सरकारी गौशाला में हाईटेंशन तार गिरने से 21 गायों की मौत हो गई है।

By: Abhishek Gupta

Published: 03 Jan 2020, 10:27 PM IST

बांदा. बांदा से दर्दनाक खबर आई है। यहां गायं गौशालाओं में ही महफूज नहीं हैं। शुक्रवार को सरकारी गौशाला में हाईटेंशन तार गिरने से 21 गायों की मौत हो गई है। मामले में डीएम ने कहा है कि इसमें किसी का दोष नहीं है, बावजूद एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच की जाएगी। घटना बांदा के खपटिहा कलां गांव की है जहां स्थित सरकारी गौशाला 'कान्हा पशु आश्रय केंद्र' तड़के करीब तीन बजे अचानक विद्युत तार टूट कर जमीन पर गिर गया। गौशाला में कई गाय थीं, जिनमें 21 चपेट में आई और उनकी मौके पर ही मौत हो गयी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे अफसरों ने आनन-फानन में जेसीबी बुलाकर सभी मृत गायों के शव को दफना दिया। सवाल यह है कि सरकारी गौशालाओं में ऐसी अव्यवस्था क्यों। गौशालाओं में गायों की देखरेख के लिए करोड़ो रुपए खर्च किए गए हैं, लेकिन उसके बाद भी ऐसे हादसे व्यवस्थाओं पर सवालियां निशान खड़े कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- बादलों ने डाला डेरा, फिर हो सकती है तेज बारिश, कल बंद रहेंगे स्कूल, डीएम ने आदेश किए जारी

जिलाधिकारी ने कहा यह-

मामले में बांदा के जिलाधिकारी हीरा लाल ने गौशाला संचालक को क्लीन चिट देते हुए कहा कि इसमें किसी की गलती नहीं है। विद्युत आपूर्ति के दौरान अचानक तार टूटा है। यह घटना बेहद दुःखद है, लेकिन फिर भी एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच कराई जाएगी। वहीं बजरंग दल गोरक्षा संयोजक प्रभाकर सिंह का कहना है कि गांव में स्थित गोशाला के ऊपर से बिजली के हाईटेंशन तार गुजरते हैं। गोशाला में भी कई जगह बिजली के तार के लिए खंभे गड़े हैं। उन्होंने गोशाला संचालक पर आरोप लगाचे हुए कहा कि जर्जर तार जमीन पर झूलते रहते हैं, लेकिन गोशाला संचालक ने इसे कभी ठीक नहीं कराया। चंदेल ने कहा कि बिजली के खंभों के पास पुआल का ढेर लगा था, जिसे गाएं खा रही थीं। इस दौरान किसी गाय की सींग में बिजली का तार फंस गया और झटका लगने पर वह तेजी से भागी। इसी दौरान और तार टूटकर पुआल खा रही अन्य गायों पर गिरे, जिससे 21 गायों की मौत हो गई।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned