भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ने यूपी पुलिस और भाजपा सरकार पर लगाए आरोप, डीएम को सौंपा ज्ञापन

भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ने यूपी पुलिस और भाजपा सरकार पर लगाए आरोप, डीएम को सौंपा ज्ञापन

Neeraj Patel | Publish: Mar, 01 2019 11:22:16 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

जिले में कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान उठाते हुए भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा।

बांदा. जिले में कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान उठाते हुए भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ने कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। पदाधिकारियों ने बबेरू हत्या काण्ड, सतना में बच्चों का अपहरण काण्ड व अतर्रा में 80 वर्षीय वृद्धा बलात्कार काण्ड की निंदा करते हुए पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए केन्द्र व प्रदेश सरकार को इन घटनाओं का जिम्मेदार बताया व पुलिसिया कार्यशैली में बदलाव लाने को कहा।

ख्यमंत्री और राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ने बांदा कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपते हुए बांदा-चित्रकूट की पुलिस के लापरवाह रवैया की निंदा की व सरकार को विफल बताया। भारतीय शक्ति चेतना पार्टी के लोगों ने कहा की बांदा-चित्रकूट की पुलिस सोती रहती है इनको नींद से जगाने लिए जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री और राज्यपाल को ज्ञापन भिजवाने का कार्य किया है। कहा कि आज हमारे देश व प्रदेश की ये स्थिति है की बांदा-चित्रकूट की पुलिस यहां नाकाम रही है किसी भी घटना का पर्दाफाश नहीं कर पाती है।

अभी हाल ही में बबेरू में हत्याएं हुई है, अतर्रा में 80 वर्षीय वृद्धा के साथ बलात्कार की घटना हुई है और चित्रकूट में जुड़वां बच्चों का अपहरण कर हत्या की घटना हुई है जिसमे फिरौती भी ली गई थी इसके बाद भी जुड़वां बच्चो की लाशें बांदा जनपद के मर्का क्षेत्र से बरामद हुई है, इसमें बांदा पुलिस की लापरवाही सामने आती है।

पुलिस को अपनी कार्यशैली में लाना चाहिए बदलाव

भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की चित्रकूट के अपहरण व हत्याकांड में जो वाहन पुलिस ने पकड़ा है वो भजपाइओं का है। वाहन में रामराज लिखा हुआ है, जहां भाजपा एक तरफ रामराज की कल्पना करती है वहीं दूसरी तरफ लोगों को मारने और काटने का काम करती है, ये दो मुखी बातें भर्ती शक्ति चेतना पार्टी नहीं करने देगी। कहा कि बांदा में तीन बड़ी घटनाएं हुई हैं। जुड़वां बच्चों की लाशें भी बांदा जनपद में बरामद हुई हैं। बांदा पुलिस लापरवाह हो चुकी है उसे अपनी कार्यशैली पर बदलाव लाना चाहिए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned