ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि और डॉक्टर के बीच जमकर हुई मारपीट, मेडिकल स्टाफ कर्मियों ने काटा हंगामा

ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि और डॉक्टर के बीच जमकर हुई मारपीट, मेडिकल स्टाफ कर्मियों ने काटा हंगामा

Neeraj Patel | Updated: 30 Mar 2019, 11:23:03 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

स्वास्थ्य केंद्र में मामूली विवाद पर ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि और डॉक्टर आपस में जमकर हुई मारपीट, डॉक्टर को आई गंभीर चोटें

बांदा. जिले के तिंदवारी स्वास्थ्य केंद्र में मामूली विवाद पर ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि और डॉक्टर आपस में भिड़ गए और मारपीट कर डाली जिसमे डॉक्टर को गंभीर चोटे आई हैं। स्टाफ कर्मी, अस्पताल में तालाबंदी कर घायल डॉक्टर के साथ जिला अस्पताल पहुंचे व नाराजगी जताते हुए हंगामा काटा। इसके बाद डाक्टरों व मेडिकल स्टाफ कर्मियों की टीम डीएम आवास पहुंची व ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि पर कार्रवाई की मांग की वही सूत्रों की मानें तो एसपी के आदेश पर आरोपी ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि पर मुक़दमा दर्ज कर लिया गया है।

जानिे क्या है पूरा मामला

ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि वरुण यादव अपने समर्थकों के साथ तिंदवारी स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे व वहां मौजूद डॉक्टर देव प्रकाश सिंह से मलहम मांगा, मलहम को लेकर इनकी आपस में झड़प हो गई और झड़प मारपीट में बदल गई, जिसमें डॉक्टर देव प्रकाश गंभीर रूप से घायल हो गए। मारपीट के बाद वरुण यादव बांदा जिला अस्पताल पहुंचे व उपचार कराकर घर वापस चले गए। इसके बाद नाराज स्टाफ कर्मियों ने स्वास्थ्य केंद्र में तालाबंदी कर दी और घायल डॉक्टर देव प्रकाश को साथ लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। मारपीट से नाराज मेडिकल कर्मियों ने अस्पताल में हंगामा काटा व जिलाधिकारी से मिलने इनके आवास पहुचे तथा ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि वरुण यादव पर मुक़दमा लिख कार्रवाई की मांग की।

इस घटना के बारे में पीड़ित डॉक्टर देव प्रकाश सिंह का कहना है कि ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि समर्थकों के साथ अस्पताल आए थे व उनसे मलहम मांगा था। अस्पताल में मलहम न होने से उनको मना कर दिया गया जिस पर उन्होंने और उनके समर्थकों ने मुझ पर घातक हथयारों से हमला कर दिया, जिससे मुझे गंभीर चोटे आई हैं, वहीं आरोपी ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि वरुण यादव का कहना है कि उन चालक अस्पताल में दवा कराने गया था। अस्पताल में सही से इलाज नहीं किया जा रहा था, जिस पर वो खुद अस्पताल पहुंचे थे। मुझ पर मारपीट का गलत आरोप लगाया गया है, डॉक्टर देव प्रकाश सिंह ने खुद उनसे मारपीट की है।

जानें क्या कहते हैं डीएम

इस बारे में एसडीएम का कहना है ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि और डॉक्टर के बिच मारपीट का मामला सामने आया है। जांच की जा रही है इसके बाद ही उचित कार्रवाई की जाएगी। फ़िलहाल दोनों एक दूसरे पर मारपीट का आरोप लगा रहे हैं, सच क्या है ये तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा। वहीं सूत्रों की मानें तो बांदा एसपी ने मामले को संज्ञान में लेते हुए मुक़दमे के आदेश कर दिए है और मुक़दमा दर्ज कर लिया है। अस्पताल के डॉक्टरों तथा कर्मचारियों के साथ आए दिन होने वाली अभद्रता से डॉक्टर व कर्मचारी चिंतित हैं। अस्पताल में तैनात सुरक्षा गार्डों की कार्यशैली पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं। अक्सर होने वाली घटनाओं में सुरक्षागार्ड कभी भी घटना के समय मौके पर मौजूद नहीं मिले। डॉक्टर कर्मचारियों के साथ मारपीट व अभद्रता की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं जिससे अस्पताल के डॉक्टर दहशत में हैं यहां कहने के लिए सुरक्षा है। डॉक्टर व अस्पताल कर्मचारियों की सुरक्षा व्यवस्था पर अब सवाल उठने लगे हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned