जब दो सगे भाईयों के बीच इस बात को लेकर हुआ विवाद, तो छोटे भाई ने कर दिया यह काम, सभी रह गए सन्न

जब दो सगे भाईयों के बीच इस बात को लेकर हुआ विवाद, तो छोटे भाई ने कर दिया यह काम, सभी रह गए सन्न

Neeraj Patel | Publish: Apr, 08 2019 10:42:18 AM (IST) | Updated: Apr, 08 2019 11:13:26 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

दो सगे भाईयो में मामूली बात को लेकर विवाद हो गया जिसके चलते छोटे भाई ने जहर खा लिया।

बांदा. परिवारिक विवाद के चलते युवक ने सलफाश जहर खाकर आत्महत्या कर ली। दो सगे भाईयो में मामूली बात को लेकर विवाद हो गया जिसके चलते छोटे भाई ने जहर खा लिया। परिजनों ने इलाज के लिए चिल्ला स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद उसे बांदा जिला अस्पताल रिफर किया गया, तो वहीं अस्पताल में डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृत युवक की लाश को पोस्ट-मार्टम को भेज दिया है और घटना की जांच कर रही है।

मामला बांदा जनपद के चिल्ला थाना अंतर्गत महेदु गांव का है जहां दो सगे भाई आपस में लड़ गए और गुस्से में आकर 19 वर्षीय छोटे भाई शशि तिवारी ने सल्फास खा लिया। परिजनों ने गंभीर अवस्था में उसे चिल्ला स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद उसे बांदा रिफर कर दिया गया, जिस पर बांदा जिला अस्पताल में डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने युवक की लाश का पंचनामा भर पोस्ट-मार्टम को भेज दिया है।

इस घटना के बारे में मृतक के पिता ने बताया कि वो बाजार गए हुए थे, घर में साइकिल को लेकर दोनों भाई आपस में लड़ गए थे। जिस पर छोटे लड़के शशि तिवारी ने जहर खा लिया, उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस बारे में सीओ सिटी राजिव प्रताप सिंह का कहना है कि चिल्ला थाना क्षेत्र में दो भाइयो के विवाद में छोटे भाई के जहर खाने का मामला संज्ञान में आया है जिसमें छोटे भाई शशि तिवारी ने जहर खाकर अपनी जान दी है। शव को पोस्ट-मार्टम को भेज दिया गया है, रिपोर्ट के आधार पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned