महिला आरक्षी ने लगाई फांसी, कारण जानने में जुटी पुलिस

महिला आरक्षी ने लगाई फांसी, कारण जानने में जुटी पुलिस

Akansha Singh | Publish: Sep, 05 2018 08:35:59 AM (IST) | Updated: Sep, 05 2018 04:51:34 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

एक महिला आरक्षी की संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी लगा कर आत्महत्या कर लेने का मामला सामने आया है।

बांदा. जिले के कमासिन थाना क्षेत्र में एक महिला आरक्षी की संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी लगा कर आत्महत्या कर लेने का मामला सामने आया है। इस महिला आरक्षी का शव थाना परिसर में ही बने उसके कमरे में लटकता मिला। घटना की जानकारी मिलते के बाद आनन-फानन में एसपी ने मौके पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया। बताया जा रहा है कि यह महिला आरक्षी पिछले कुछ दिनों से डिप्रेशन में थी।

मामला कमासिन थाने का है, जहां थाने में तैनात एक महिला सिपाही नीतू ने देर शाम अपने कमरे में दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।बताया जा रहा है कि नीतू थाना परिसर में बने क्वार्टर में ही एक और महिला सिपाही के साथ रहती थी। कौशांबी के मोहब्बतपुर थाने की रहने वाली नीतू शुक्ला इस थाने में 2017 से तैनात थी। वह इसी थाने में बने एक कमरे में महिला कांस्टेबल नेहा शुक्ला के साथ रहती थी। यहां के स्टाफ की माने तो देर शाम को उसने अंदर से कमरा बंद कर दुपट्टे के सहारे फांसी लगा ली. जब इस घटना की जानकारी थाने में कार्यरत अन्य पुलिसकर्मियों को हुई तो हड़कंप मच गया।

यह भी पढ़ें - पीएचडी महिला शिक्षामित्र ने योगी सरकार पर बोला हमला, 68500 शिक्षक भर्ती पर दिया ये बयान

इंस्पेक्टर प्रतिमा सिंह ने बताया कि आत्महत्या का कारण फिलहाल ज्ञात नहीं हो सका है. वहीं महिला आरक्षी के कमरे में उसके साथ रहने वाली नेहा शुक्ला ने बताया कि वह पिछले तीन दिन से बीमार थी। वहीं मौके पर पहुंचे एसपी ने घटना स्थल का निरीक्षण किया, उन्होंने बताया कि महिला सिपाही तनाव में थी और साथ ही बीमार चल रही थी, प्रथम दृष्ट्या मामला आत्महत्या का लग रहा है। उन्होंने बताया कि आत्महत्या के कारणों का पता परिजनों के आने के बाद और जांच के बाद ही चल सकेगा।

यह भी पढ़ें - Teachers Day 2018: जानिये आज ही क्यों मनाया जाता है टीचर्स डे, क्या है इसका इतिहास

Ad Block is Banned