जुड़वा भाईयों की हत्या मामले में सीबीआई जांच व हत्यारों को फांसी की सजा देने की उठी मांग

बीते दिनों सतना जिले के चित्रकूट से दो मासूम जुड़वा बच्चों के अपहरण के बाद उनकी हत्या कर दी गई थी।

By: Abhishek Gupta

Updated: 02 Mar 2019, 06:20 PM IST

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बांदा. बीते दिनों सतना जिले के चित्रकूट से दो मासूम जुड़वा बच्चों के अपहरण के बाद उनकी हत्या कर दी गई थी।मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। इसी प्रकरण में बबेरु नगर के व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने राज्यपाल राम नाईक से सीबीआई जांच व दोषियों को फाँसी की सजा दिए जाने की मांग की है।

ये भी पढ़ें- जुड़वा बच्चों के अपहरणकर्ताओं ने बताया - ऐसे की दोनों की हत्या, सुनकर पिता ने की यह मांग

फांसी की सजा दी जाए-

बाँदा जनपद के बबेरु नगर व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने उप जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपा व प्रकरण की सीबीआई जॉंच कराते हुए दोषियों को फांसी की सजा दिलाने की माँग की है। व्यापार मंडल अध्यक्ष सुधीर अग्रहरि ने बताया कि पिछले दिनों दो जुड़वा मासूम बच्चों के अपहरण करने व फिरौती लेने के बाद भी हत्या करने के मामले में उत्तर प्रदेश एवं मध्य प्रदेश की पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई थी। हम लोग चाहते हैं कि इस मामले की सीबीआई जांच कराई जाए और जो पकड़े गए अभियुक्त दोषी हैं उनको फांसी की सजा दी जाए।

यह था मामला-

आपको बता दें कि पूरा मामला सतना जिले के चित्रकूट का है जहां पर पिछले दिनों एक तेल व्यवसायी के दो मासूम बच्चों का अपराहन कर लिया गया था। फिरौती देने के बाद भी दोनों मासूम बच्चों के हाथ पैर बांधकर उन्हें यमुना नदी में फेंक दिया गया था जिसमें बच्चों की मौत हो गई थी। इस घटना में मध्य प्रदेश व उत्तर प्रदेश की पुलिस की लापरवाही के चलते बच्चों का सुराग तक नहीं लग पाया था, जबकि पिता बृजेश रावत अपहरणकर्ताओं को 20 लाख रुपए भी दे दिए थे। उसके बाद भी बच्चों की निर्मम हत्या कर दी गई थी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned