20 साल बाद हुई बड़ी छापेमारी, नामचीन गुटखा कारोबारी के इन ठिकानों पर रेड

20 साल बाद हुई बड़ी छापेमारी, नामचीन गुटखा कारोबारी के इन ठिकानों पर रेड

By: Ruchi Sharma

Published: 14 Nov 2017, 10:47 AM IST

बांदा. आयकर चोरी को रोकने के लिए सरकार ने कड़ा रुख अख्‍तियार कर लिया है। देशभर में इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट की ओर से ताबड़तोड़ छापेमारी की कार्रवाई जारी है। इसी क्रम में सोमवार को बांदा जिले में आईटी डिपार्टमेंट की बड़ी कार्रवाई हुई है। आईटी डिपार्टमेंट ने बांदा के नामचीन गुटखा कारोबारी के ठिकानों पर रेड की और अभी भी देर रात तक ये कार्रवाई जारी है।

जिले में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक नामचीन गुटखा कारोबारी के ठिकानों पर रेड की। कानपुर से एक दर्जन वाहनों में आयी आयकर विभाग की टीम ने गुटखा कारोबारी के 10 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। दोपहर में हुई कार्रवाई देर रात तक जारी है। कानपुर से आयी आयकर विभाग की जम्बों टीम ने सोमवार को बांदा में भारत गुटखा कारोबारी राकेश कुमार साहू के 10 ठिकानों पर रेड की है।

वहीं रेड की जा रही जगहों को स्थानीय पुलिस ने सख्‍त पहरे में ले लिया है। मुख्य आयकर निदेशक (इंक्वायरी) अमरेंद्र कुमार की अगुवाई में दो दर्जन से ज्यादा आयकर टीम मेंबर्स ने साहू ग्रुप के राकेश साहू, स्वतंत्र कुमार साहू और प्रेमा साहू के मकानों समेत इनके सात प्रतिष्ठानों में भी छापेमारी की है। आयकर विभाग की छापेमारी से जिले के व्यवसाइयों में हड़कंप मचा हुआ है।

धारा 132 के तहत दोपहर से शुरू हुई सर्च और सीज़र की कार्रवाई शाम तक जारी है और बताया जा रहा है कि ये कार्रवाई पूरी रात चल सकती है। आयकर अधिकारियों ने इन दौरान मीडिया से भी दूरी बनाये रखी है और कैमरे के सामने कुछ भी कहने से इंकार किया है। हालांकि चीफ इन्कम टैक्स कमिश्नर की तरफ से एक प्रेसनोट जारी किया गया है, जिसमें बांदा को व्यापार की नजर से डेवलप्ड लेकिन इनकम टैक्स में चोरी की बात कही गयी है और ये कार्रवाई टैक्स चोरों को संकेत देने के लिए की जाने की बात कही गयी है।

आपको बता दें कि बांदा में 20 साल बाद इनकम टैक्स विभाग ने इतनी बड़ी कार्रवाई की है। इसके पूर्व बांदा में दर्जन भर सर्राफा कारोबारियों पर ऐसी ही कार्रवाई की गयी थी ।

Show More
Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned