शिक्षकों को नियुक्ति तो मिल गई अब मेडिकल सर्किफिकेट के लिए हो रहे परेशान

शिक्षकों को नियुक्ति तो मिल गई अब मेडिकल सर्किफिकेट के लिए हो रहे परेशान

Mahendra Pratap Singh | Publish: Sep, 08 2018 11:34:23 AM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 05:37:03 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

नवनियुक्त शिक्षकों को स्कूलों में जॉइनिंग को लेकर सीएमओ ऑफिस के चक्कर काटने पड़ रहे हैं।

बांदा. बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षकों की भर्ती के क्रम में बांदा में भी लगभग 400 शिक्षकों को नियुक्त किया गया है। शिक्षकों की नियुक्ति तो आसानी से हो गई लेकिन अब स्कूलों में जॉइनिंग को लेकर उन्हीं शिक्षकों को सीएमओ ऑफिस के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। बेसिक शिक्षा विभाग से बांदा में ही मेडिकल सर्टिफिकेट बनवाने का फरमान और उस पर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही ने शिक्षकों को परेशान कर रखा है। बांदा सीएमओ ऑफिस में 400 शिक्षक अपना मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट बनवाने के लिए आज सारा दिन परेशान रहे। वहीं सीएमओ ऑफिस में मात्र एक काउंटर होने के चलते शिक्षकों को सारा दिन अपना मेडिकल कराने के लिए धक्के खाने पड़े।

जॉइनिंग के समय स्वास्थ्य प्रमाण पत्र की जरूरत

दरअसल शिक्षकों की जॉइनिंग के समय स्वास्थ्य प्रमाण पत्र की जरूरत पड़ती है, इसी को लेकर आज यह आपाधापी सीएमओ ऑफिस में देखने को मिली। दूर दराज से आए शिक्षकों ने हालांकि अपने गृह जनपद से मेडिकल सर्टिफिकेट बनवा रखा था लेकिन बांदा बेसिक शिक्षा विभाग ने उनके सामने बांदा में ही उनसे उनके मेडिकल सर्टिफिकेट बनवाने की शर्त रखी थी। इसी को लेकर आज लगभग 400 शिक्षक सीएमओ ऑफिस पहुंचे हुए थे लेकिन सीएमओ ऑफिस में एक ही काउंटर होने के चलते इनको भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जल्दी सुबह से ही ये शिक्षकों की यहां लंबी-लंबी लाइनें देखने को मिली।

पुलिस तक को सीएमओ ऑफिस में आना पड़ा

दोपहर तक जब 20% लोगों तक का सर्टिफिकेट नहीं बन पाया तो इस पर इन लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया, जिस पर स्थानीय पुलिस तक को सीएमओ ऑफिस में आना पड़ा जब जाकर पुलिस ने शिक्षकों को शांत कराया। हालांकि भीड़ को देखते हुए सीएमओ ने एक और काउंटर दोपहर बाद खुलवाया जहां कुछ अन्य डॉक्टरों को बुलाया गया और तब जाकर नवनियुक्त टीचरों को मेडिकल सर्टिफिकेट मिल सका।

Ad Block is Banned