बहरूपिए प्रियंका गांधी का कोर सदस्य बताकर कर रहे थे ठगी, जानिए कैसे खुला राज

बहरूपिए प्रियंका गांधी का कोर सदस्य बताकर कर रहे थे ठगी, जानिए कैसे खुला राज

Neeraj Patel | Updated: 02 Apr 2019, 02:31:25 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बहरूपिए हमीरपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को खुद को प्रियंका गांधी का कोर सदस्य बताकर कर रहे थे लूट। सक होने पर पुलिस को पकड़वाया।

बांदा. लोकसभा चुनाव को देखते हुए सभी पार्टिया चुनाव प्रसार में जुटी हुई हैं। नेताओं व स्टार प्रचारकों की धूम भी शुरू हो चुकी है। बांदा व चित्रकूट जिलों में आगामी 5 अगस्त को कर्वी से बांदा तक प्रियंका गांधी का रोड शो होना है जिसको देखते हुए कांग्रेसी कार्यकर्ता तैयारी में जुटे हुए हैं। इसी दौरान चार युवकों को कांग्रेसियों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले किया है जो सभी प्रत्याशियों से अपने आप को प्रियंका गांधी द्वारा भेजा गया कोर सदस्य बताकर पैसा ऐठ रहे थे।

इससे पहले ये चारों बहरूपिए हमीरपुर पहुंचे जहां कांग्रेस प्रत्याशी प्रीतम सिंह लोधी से खुद को कोर सदस्य बताकर 50,000 रुपए लिए थे। इसके बाद बांदा कांग्रेस प्रत्याशी बाल कुमार पटेल से मिले जिस पर आला कमान से बार करने पाए फर्जी पाए जाने पर इन्हे पुलिस के हवाले कर दिया गया।

जानिए क्या है पूरा मामला

मामला यह है कि आगामी 5 अप्रैल को कर्वी से बांदा तक प्रियंका गांधी का रोड शो संपन्न होना है जिसको लेकर कांग्रेसी तैयारियों में जुटे हुए हैं। इसी का फायदा उठाते हुए चार युवक हमीरपुर-महोबा के कांग्रेस प्रत्याशी प्रीतम सिंह लोधी से मिलने हमीरपुर पहुंचे व खुद को प्रियंका गांधी द्वारा भेजे जाने की बात करते हुए अपने आप को कोर सदस्य बताया और प्रचार प्रसार के नाम पर 50,000 रुपए मांगे। चुनावी प्रसार प्रचार में व्यस्तता के कारण प्रत्याशी प्रीतम सिंह लोधी ने उन्हें 50,000 रुपये दे दिए, जिस पर इन चारों ने अन्य प्रत्याशियों से मिलने के लिए एक कार की मांग की। जिस पर कांग्रेस प्रत्याशी ने उन्हें एक कार भी उपलब्ध करा दी।

युवकों पर हुआ सक

बांदा-चित्रकूट से कांग्रेस प्रत्याशी बाल कुमार पटेल को फ़ोन कर मिलने को कहा, जिस पर बाल कुमार पटेल एक ढाबे में चुनाव प्रसार में लगे थे तो उन्होंने इन चारो को ढाबे में ही बुला लिया। यहां भी इन युवकों ने बाल कुमार पटेल को प्रियंका गांधी द्वारा भेजा गया कोर सदस्य बताते हुए प्रचार प्रसार के लिए रुपयों की मांग की। तभी ढाबे में मौजूद कांग्रेसियों ने युवकों के गले का आई कार्ड देखा तो उन्हें सक हुआ। इस पर जब कांग्रेसियों ने पार्टी के हाई कमान से फ़ोन पर बात की तो पता चला की उनके द्वारा कोई भी कोर सदस्य नहीं भेजा गया।

इसके बाद कांग्रेसियो ने पुलिस को सूचना दी और पुलिस ने मौके में जाकर चारों को गिरफ्तार कर लिया तथा पूछताछ पर चारों बहरूपिए निकले, जिस पर उन्हें जेल भेज दिया गया है। इस बारे में कांग्रेस की महिला जिला अध्यक्ष सीमा खान ने बताया कि चार बहरूपिए खुद को प्रियंका गांधी का कोर सदस्य बताकर हमीरपुर प्रत्याशी से 50,000 रुपए ले आए थे व बांदा में आकर बाल कुमार पटेल से मिलकर रुपयों की मांग कर रहे थे, जिस पर सक के आधार पर जानकारी ली गई तो ये सभी फर्जी निकले तो इन्हे पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned