UP Board Exam 2019 : शिक्षक ने यूपी बोर्ड परीक्षा में नहीं करने दी नकल, तो छात्रों ने जमकर की पिटाई

छात्रों ने नक़ल करने से रोकने पर शिक्षक की सड़क पर सरेआम पिटाई कर दी। जिसके बाद शिक्षक ने मुकदमा दर्ज कराकर कार्रवाई की मांग की हैं।

By: Neeraj Patel

Published: 04 Mar 2019, 10:48 AM IST

बांदा. गुरु व शिष्य का रिस्ता अनमोल होता है, पर आज बांदा में ऐसा मामला प्रकाश में आया है जहां नक़ल करने से रोकने पर छात्रों ने शिक्षक की सड़क पर सरेआम पिटाई कर दी। पीड़ित शिक्षक ने अन्य शिक्षकों के साथ शहर कोतवाली जाकर लिखित तहरीर देते हुए कार्रवाई की मांग की है।

यूपी बोर्ड माध्यमिक शिक्षा परिषद की परीक्षाओं का संचालन इन दिनों जारी है। इसी क्रम पर माध्यमिक शिक्षा परिषद के इंटर कॉलेज के पंडित जवाहरलाल नेहरू इंटर कॉलेज मे कक्ष निरीक्षक की ड्यूटी कर रहे शिक्षक ने नक़ल से रोकने पर छात्रों पर मारपीट का आरोप लगाया है।

ये है पूरा मामला

कक्ष निरीक्षक की ड्यूटी कर रहे पंडित जवाहरलाल नेहरू इंटर कॉलेज गिरवा के कक्ष निरीक्षक श्रवण कुमार को कॉलेज के कक्ष संख्या 17 पर निरीक्षक के रूप में ड्यूटी पर तैनात किया गया था जो अंग्रेजी का पेपर होने के कारण कक्ष निरीक्षक श्रवण कुमार द्धारा पेपर संचालित करवा कर परीक्षा उपरांत कॉपियों को जमा करके वापस घर जाते समय छात्रों द्धारा पकड़ कर मारा-पीटा गया है। आज तिंदवारा क्षेत्र के निवासी श्रवण कुमार कई शिछकों के साथ बांदा कोतवाली गए व तहरीर देकर दोषिओं पर कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

पीड़ित कक्ष निरीक्षक ने यह मांग

श्रवण कुमार का आरोप है कि छात्रों को नकल न कराने पर मेरे साथ मारपीट की गई है। घटना थाना गिरवां अंतर्गत की है पीड़ित कक्ष निरीक्षक ने यह मांग की है, कि अगर कार्रवाई नहीं की गई तो हम सभी अध्यापक मिलकर रोड जाम करेंगे। यह आज जो हमारे साथ हुआ है दोबारा किसी अन्य अध्यापक के साथ पुनरावृत्ति न हो सके।

शिक्षक की तरफ से लिखा गया मुक़दमा

इस घटना के बारे में सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह ने बताया की तिंदवारा क्षेत्र के रहने वाले शिक्षक की दिन-दहाड़े कुछ लड़कों द्धारा पिटाई का मामला संज्ञान में आया है, शिक्षक की तरफ से मुक़दमा लिख लिया गया है, दोषियों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Show More
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned