script1,000 EV charging stations to be set up in Karnataka | कर्नाटक में 1,000 ईवी चार्जिंग स्टेशनों की होगी स्थापना | Patrika News

कर्नाटक में 1,000 ईवी चार्जिंग स्टेशनों की होगी स्थापना

- बिजली वितरण पर बढ़ेगा लोड

बैंगलोर

Published: June 16, 2022 07:41:24 pm

बेंगलूरु में इलेक्ट्रिक वाहनों के चार्जिंग नेटवर्क को मजबूत करने के लिए बैंगलोर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी (बेस्कॉम) अगले छह महीनों में 140 नए चार्जिंग स्टेशन जोड़ेगी। बेस्कॉम के प्रबंध निदेशक पी राजेंद्र चोलन के अनुसार पीपीपी मॉडल में पूरे कर्नाटक में 1,000 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए निविदाएं आमंत्रित की गई हैं।

कर्नाटक में 1,000 ईवी चार्जिंग स्टेशनों की होगी स्थापना
कर्नाटक में 1,000 ईवी चार्जिंग स्टेशनों की होगी स्थापना

उन्होंने कहा कि राज्य में सात स्मार्ट शहर हैं। नए ईवी चार्जिंग स्टेशनों में से लगभग 50 प्रतिशत स्टेशनों को इन स्मार्ट शहरों में केंद्रित करने की योजना है। जिसमें बेंगलूरु के हिस्से में लगभग 150 स्टेशन आएंगे। शेष स्टेशनों को राज्य भर में प्रत्येक जिला मुख्यालय और राजमार्गों में समान रूप से आवंटित किया गया है। उन्होंने कहा कि हमने स्थानों की पहचान करने और परियोजना के तेजी से कार्यान्वयन के लिए स्थानीय स्तर पर इस गतिविधि को समन्वित करने के लिए अन्य डिस्कॉम को शामिल किया है।

मालूम हो कि वर्तमान में बेस्कॉम बेंगलूरु शहर में 136 ईवी चार्जर संचालित कर रहा है। मार्च में भारी उद्योग विभाग ने फेम योजना चरण -2 के माध्यम से राज्य को 172 ईवी चार्जिंग स्टेशनों को मंजूरी दी थी, जिसमें से बेंगलूरु शहर में 152 चार्जिंग स्टेशनों का आवंटन किया गया था। बेस्कॉम ने बेंगलूरु शहर में इन चार्जिंग स्टेशनों को स्थापित करने के लिए नेशनल थर्मल पावर कॉरपोरेशन (एनटीपीसी) और राजस्थान इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंस्ट्रूमेंट्स लिमिटेड (आरईआईएल) के साथ समझौता किया है। राज्य सरकार के इलेक्ट्रिक वाहन और ऊर्जा भंडारण नीति के अनुरूप, बुनियादी ढांचे से संबंधित मामलों को देखने के लिए सिंगल-विंडो एजेंसी के रूप में एक समर्पित इलेक्ट्रिक वाहन सेल बनाया गया था।

बेस्कॉम ने फरवरी -2022 में लगभग 6,500 मेगावाट का पीक लोड दर्ज किया जिसमें से लगभग 2,500 मेगावाट लोड बेंगलूरु शहरी जिले से है। सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने पर जोर दे रही है। ऐसे में यह संभावना है कि आने वाले दिनों में वितरण ग्रिड पर ईवी लोड बहुत अधिक होने वाला है। आईएसजीएफ के सहयोग से बेस्कॉम ने ग्रिड पर ईवी चार्जिंग स्टेशनों के प्रभाव पर एक अध्ययन किया है। चोलन ने कहा कि इसके मद्देनजर तैयारियां की जाएंगी। ऊर्जा विभाग 23 से 30 जून के बीच ईवी चार्जिंग सेंटर अभियान भी चलाएगा। मालूम हो कि 2021 तक बेंगलूरु में 17,289 दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहन हैं जो रिपोर्ट के अनुसार 2030 में 1,918,434 तक पहुंच सकते हैं। इलेक्ट्रिक वाहनों की जरूरत को पूरा करने के लिए, 2030 तक शहर में 58,000 चार्जिंग स्टेशनों की आवश्यकता होगी। बेस्कॉम के चार्जिंग स्टेशनों के अलावा बेंगलूरु शहर में निजी कम्पनियों द्वारा सार्वजनिक ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए गए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

PM Modi In Telangana: 6 महीने में तीसरी बार तेलंगाना के CM केसीआर एयरपोर्ट पर PM मोदी को नहीं किया रिसीवMaharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गएक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाआतंकी सोच ऐसी कि बाइक का नम्बर भी 2611, मुम्बई हमले की तारीख से जुड़ा है नंबर, इसी बाइक से भागे थे दरिंदेपाकिस्तान में चुनावी पोस्टर में दिख रहीं सिद्धू मूसेवाला की तस्वीरें, जानिए क्या है पूरा मामला500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या होता है फिट और अनफिट नोटनूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट लिखने पर अमरावती में दुकान मालिक की हुई हत्या!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.