130 किलो गांजा जब्त, 5 गिरफ्तार

130 किलो गांजा जब्त, 5 गिरफ्तार

Shankar Sharma | Publish: Feb, 15 2018 10:53:45 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

हुलिमावु पुलिस ने तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर 75 किलोग्राम गांजा जब्त किया है।

बेंगलूरु. हुलिमावु पुलिस ने तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर 75 किलोग्राम गांजा जब्त किया है। पुलिस के अनुसार बन्नेरघट्टा रोड पर एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज के पास गांजा बेच रहे तमिलनाडु के कृष्णगिरि जिले डंकनीकोटे निवासी गोविंद राजू (२९) को गिरफ्तार किया गया। उसके कब्जे से पांच किलो गांजे के पैकेट जब्त किए गए। आरोपी मछली की पेटियों में गांजे की तस्करी करते थे।


पुलिस के मुताबिक कोत्तानूर मेन रोड हरिनगर स्थित एक कमरे पर छापा मार कर ७० किलो गांजा जब्त किया गया। वह होटलों में रोटी पैक करने की तर्ज पर गांजा रोल पैक करने के जरिए दो से पांच सौ रुपए में बेचता था। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने येलचेनहल्ली के बसवराज (२८) और जेपी नगर आठवां स्टेज के महेंद्र (२२) को भी गिरफ्तार कर कुछ गांजा जब्त किया गया। तीनों आरोपी कई सालों से गांजा बेचा करते थे। तीनों पेशे से पेंटर हंै। वह रातों-रात अमीर बनने के लिए तमिलनाडु से गांजा लाकर छात्रों और साफ्टवेयर इंजीनियरों को बेचते थे।


कोरमंगला पुलिस ने कोरमंगला पांचवां ब्लॉक में बीएमटीसी बस स्टैण्ड के पास यात्रियों को गांजा बेच रहे एक युवक नवीन कुमार (२९) को गिरफ्तार कर ४० किलोग्राम गांजा, दो मोबाइल और एक बाइक जब्त की गई। आरोपी चामराज नगर जिले कोलेगाल का निवासी है।


उसे कलासिपाल्यम पुलिस ने डकैती के आरोप मेें गिरफ्तार किया था। यह मामला न्यायालय में लंबित है। न्यायालय में हाजिर नहीं होने पर कोर्ट ने उसे गिरफ्तार करने के लिए वारंट भी जारी किया था। वह बेंगलूरु में गांजा बेच कर गुजारा करता था और कोलेगाल में उसने एक मकान खरीदा है। उसका एक दोस्त फरार ह, जिसकी तलाश जारी है।


माइको ले आउट पुलिस ने भी गांजा बेचने के आरोप में दो युवकों को गिरफ्तार कर १५ किलो गांजा जब्त किया है। पुलिस के अनुसार ओडिशा के भद्रक जिले के निवासी जगर समल (३०) और गंजम जिले के लोकनाथ सहानी (३२) ओडिशा से गांजा लाकर बेंगलूरु की कॉलेजों के पास छात्रों को बेचते थे।

रिश्वत लेते सीडीपीओ गिरफ्तार
बेंगलूरु. शिवमोग्गा जिले के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) अधिकारियों ने तीर्थहल्ली के महिला एवं बाल कल्याण विभाग के बाल विकास परियोजना अधिकारी (सीडीपीओ) बीबी कुलकर्णी को एक व्यक्ति से ८,००० रुपए रिश्वत लेते समय रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।


एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि छह माह पहले सीडीपीओ कार्यालय से ३०० आंगनवाड़ी केंद्रों को अनाज आपूर्ति के लिए निविदाएं आमंत्रित की थीं। केवल महिला स्वयंसेवी संगठनों को ही निविदाएं दाखिल करने का अधिकार था। तीर्थहल्ली के तुदुरू गांव की एमएसपीसी महिला संघ को अनाज की आपूर्ति की जिम्मेदारी दी गई थी। महिला संघ ने अनाज आपूर्ति के लिए अण्णप्पा स्वामी ट्रांसपोर्ट से दो लॉरी किराए पर ली थीं। लॉरियों का किराया सीजीपीओ कार्यालय से महिला संघ को चेक के जरिए दिया जाता था।


आरोपी कुलकर्णी हर माह चेक जारी करने के लिए १० हजार रुपए लेता था। महिला संघ ने इसकी शिकायत एक व्यक्ति आर.एन.भुजंगा शेट्टी से की। भुजंगा शेट्टी ने चेेक लेने के लिए आरोपी कुलकर्णी के पास गया। उसने चेक देने के लिए ८,००० रुपए रिश्वत मांगी। भुंजगा शेट्टी ने बुधवार सुबह रिश्वत देने का आश्वासन देकर शिवमोग्गा के एसीबी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करा दी। कुलकर्णी बुधवार सुबह शेट्टी से रिश्वत लेकर नोट गिन रहा था। उसी समय उसे गिरफ्तार किया गया। उसके खिलाफ तीर्थहल्ली पुलिसथाने में मामला दर्ज किया गया है।

Ad Block is Banned