तीन सड़क हादसों में 14 मरे

Kumar Jeevendra Jha

Publish: Jan, 13 2018 07:38:50 (IST)

Bengaluru, Karnataka, India
तीन सड़क हादसों में 14 मरे

हासन में सरकारी बस के पुल से नीचे गिरने के कारण 8, कोलार और उत्तर कन्नड़ में वाहनों के पेड़ से टकराने के कारण 6 लोगों की मौत हो गई

बेंगलूरु. राज्य में शनिवार सुबह हुए तीन अलग-अलग हादसों में 14 लोगों की मौत हो गई जबकि 41 लोग घायल हो गए। पुलिस के मुताबिक हासन में सरकारी बस के पुल से नीचे गिरने के कारण 8, कोलार और उत्तर कन्नड़ में वाहनों के पेड़ से टकराने के कारण 6 लोगों की मौत हो गई।

 

पुल से नीचे गिरी परिवहन निगम की बस, 8 मरे
हासन जिले के शांतिग्राम के पास शनिवार तड़के राज्य परिवहन निगम की लक्जरी बस के पुल से नीचे गिर जाने के कारण हुए हादसे में चालक और सह चालक सहित 8 लोगों की मौत हो गई जबकि 27 घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए हासन आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया है।
मिली जानकारी के मुताबिक राज्य परिवहन निगम की ऐरावत श्रेणी की वोल्वो बस बेंगलूरु से धर्मस्थल जा रही थी। हादसे के वक्त बस में 44 लोग सवार थे। बस रात 11.44 बजे बेंगलूरु से रवाना हुई थी। सुबह करीब 3.30 बजे राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-75 पर करेकेरे गांव में हासन कृषि विश्वविद्यालय के पास एक तालाब पर बने पुल से बस गिर गई। बताया जाता है कि तेज रफ्तार पुल की रेलिंग को तोडऩे के बाद बाद नीचे गिरी। बस का अगला हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। मृतकों और गंभीर रुप से घायल यात्रियों में से अधिकांश अग्रिम सीटों पर ही बैठे थे। हादसे में 7 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक अन्य घायल यात्री की मौत अस्पताल में हो गई।
मृतकों की पहचान चालक शिवप्पा सी (45), सहचालक लक्ष्मण (48), मेंगलूरु की मेडिकल छात्रा टी डी डायना (26), बेंगलूरु के गंगाधर (58), बिजू जार्ज (26), सोनिया जानी (38), राकेश प्रभु (35) के तौर पर की गई है। एक 26 वर्षीय मृत यात्री की पहचान नहीं हो सकी है।
कोहरे के कारण हुआ हादसा!
पुलिस और परिवहन निगम के अधिकारियों का कहना है कि हादसा तेज रफ्तार के कारण नहीं, कोहरे के कारण हुआ। हासन बाईपास के पास बने पुल से जब गुजर रही थी तब कोहरे के कारण आगे सड़क साफ दिखाई नहीं दे रहा था। संतुलन बिगडऩे के कारण बस पुल की दीवार से टकराने के बाद नीचे गिरी। निगम का कहना है कि चालक ९ साल से सेवा में था और इससे पहले कभी उससे हादसा नहीं हुआ है। परिचालक -सह- चालक लक्ष्मण भी 7 साल से सेवा में था। निगम के मुताबिक हादसे के वक्त बस की रफ्तार 59 किमी प्रति घंटे की थी।
घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार शाहपुरवाड और निगम के अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। मौके पर पहुंची शांतिग्राम पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने का इंतजाम करने के साथ राजमार्ग पर यातायात बहाल करने का काम किया।
3-3 लाख रुपए की अनुग्रह राशि
परिवहन निगम ने मृतकों के परिजनों को 15-15 हजार अंतरिम क्षतिपूर्ति देने की घोषणा की है। इसके साथ ही निगम घायलों के उपचार का खर्च भी वहन करेगा। परिवहन मंत्री एच एम रेवण्णा ने सरकार की ओर से मृतकों के परिजनों को 3-3 लाख रुपए की अनुग्रह राशि दिए जाने की घोषणा की है।

ऑटो पेड़ से टकराया, चार की मौत
कोलार जिले के मुलबागल के पास शनिवार सुबह एक ऑटो के पेड़ से टकराने के कारण चार लोगों की मौत हो गई जबकि चार लोग गंभीर रुप से घायल हो गए।
पुलिस के मुताबिक बंगारपेट तहसील सण्णाकुप्पम गांव निवासी सात लोग ऑटो में मुलबगाल तहसील के खादरीपुर गांव स्थित प्रसिद्ध शनि मंदिर में विशेष पूजा कर ऑटो में घर लौट रहे थे। ऑटो चालक को झपकी आ रही थी और उसने नियंत्रण खो दिया जिसके कारण हादसा हुआ। हादसे में ऑटो सवार भास्कर (35) ,पार्वतम्मा (38) और गौरम्मा (22) की मौके पर ही मौत हो गई। गंभीर रूप से जख्मी पांच लोगों को कोलार के सरकारी एस.एन.आर.अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां एक युवक गोपाल (21) ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। बाकी चार घायलों की स्थिति भी गंभीर बताई जा रही है।
कारवार के पास दो की मौत
उत्तर कन्नड़ जिले के कारवार के पास एक जीप के पेड़ से टकराने के कारण हुए हादसे में दो लोगों की मौत हो गई और 10 अन्य घायल हो गए। पुलिस के अनुसार जीप कारवार से गोवा की तरफ जा रही थी। चालक की लापरवाही से जीप पेड़ से टकरा गई। जीप में सवार निंगप्पा (58) और श्रीनिवास (26) की मौत हो गई। घायलों को कारवार सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है जिनमें से तीन की स्थिति गंभीर बताई जा रही है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned