नन्हे मुन्ने यात्री का अनूठा बस सफर

'द बेबिज डे आउट नामक फिल्म को दर्शकों ने काफी पसंद किया था।इस फिल्म में दर्शाया गया था की कैसा एक नन्हा मुन्ना बालक घर से बाहर निकल कर कई किस्म के वाहनों में सफर करने के पश्चात अंतत: अपने अभिभावकों से मिलता है, कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम की बस में धारवाड जिले के उप्पीनबेटगेरी गांव से बेलगावी जिले के तहसील मुख्यालय बैलहोंगल तक सफर के पश्चात 18 माह का बालक घर लौटा है।

धारवाड.अंग्रेजी में 'द बेबिज डे आउट नामक फिल्म को दर्शकों ने काफी पसंद किया था।इस फिल्म में दर्शाया गया था की कैसा एक नन्हा मुन्ना बालक घर से बाहर निकल कर कई किस्म के वाहनों में सफर करने के पश्चात अंतत: अपने अभिभावकों से मिलता है।धारवाड जिले में भी एक ऐसी घटना हुई है। कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम की बस में धारवाड जिले के उप्पीनबेटगेरी गांव से बेलगावी जिले के तहसील मुख्यालय बैलहोंगल तक सफर के पश्चात 18 माह का बालक घर लौटा है।
बताया जा रहा की उप्पीनबेटगेरी गांव के बस स्टैंड के परिसर में स्थित एक मकान से खेलते खेलते यह फरहान नामक का यह बालक इस बस में सवार हो गया।बस के परिचालक ने बस में सवार किसी यात्री का बच्चा होगा ऐसा समझकर इस पर ध्यान नहीं दिया लेकिन जब बस अंतिम गंतव्य बैलहोंगल तक पहुंची तब सब यात्री उतरने के बाद भी यह बच्चा बस की सीट पर ही सवार था।
बस में अकेले इस नन्हे यात्री को देखकर दंग रहें बस के परिचालक इस बालक को लेकर नियंत्रण कक्ष में पहुंच गया। नियंत्रण कक्ष में बस से उतरे इस नन्हें यात्री को देखने के लिए भीड़ उमड गई तब एक ऑटो चालक ने इस बालक की तस्वीर खिंचकर इस वीडियो को दो तीन व्हाटसअप ग्रूप में शेयर कर दिया। इसकी सूचना मिलने के पश्चात बालक के अभिभावक बैलहोंगल पहुंच गए। स्थानीय पुलिस तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों ने अभिभावकों से पूछताछ के पश्चात बच्चे को अभिभावकों को सौंप दिया है।

Sanjay Kulkarni
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned