scriptA true student with a hunger for values - Acharya Mahendra Sagar | संस्कारों की भूख वाला सच्चा विद्यार्थी-आचार्य महेन्द्रसागर | Patrika News

संस्कारों की भूख वाला सच्चा विद्यार्थी-आचार्य महेन्द्रसागर

धर्मसभा का आयोजन

बैंगलोर

Published: January 24, 2022 07:54:30 am

बेंगलूरु. अजीतनाथ जैन श्वेतांबर मूर्तिपूजक संघ तुमकुरु में विराजित आचार्य महेंद्रसागर सूरी ने बालक-बालिकाओं के शिविर में कहा कि सच्ची विद्या वही है जो हमें बुराइयों से मुक्त कराती है। जो विद्या नम्रता, मधुरता परोपकार, संयम, संतोष आदि सद्गुणों पर आधारित होती है तथा जिसमें धार्मिक आचार विचारों का समावेश होता है, वही विद्या मिथ्यात्व का पर्दा हटाकर ज्ञान चक्षु को उघाड़ती है, और आत्मा को जन्म मरण के चक्र से छुड़ाती है। जब तक शिक्षा में धार्मिक विचारों आचारों का समावेश नहीं होगा तब तक वह अपूर्ण रहेगी। चाहे आप स्कूल कॉलेजों में पढ़ रहे हों परंतु आपमें कम से कम धर्म का बीजारोपण तो होना ही चाहिए तथा अपने हृदय में माता-पिता के प्रति बड़ों के प्रति तथा अपने गुरु और शिक्षक के प्रति गहरी श्रद्धा और सम्मान की भावना होनी चाहिए। तभी अपनी नम्रता और विनय के द्वारा जो शिक्षा प्राप्त करेंगे उसका परिणाम शुभ होगा। अन्यथा अपनी और स्वच्छंदता और उच्छंखलता व अविनीतता के कारण माता-पिता और शिक्षक के साथ रहकर भी ज्ञान प्राप्त नहीं कर सकेंगे। सच्चा विद्यार्थी वही है जिसे शिक्षा और संस्कारों की सच्ची भूख हो।
संस्कारों की भूख वाला सच्चा विद्यार्थी-आचार्य महेन्द्रसागर
संस्कारों की भूख वाला सच्चा विद्यार्थी-आचार्य महेन्द्रसागर
मनुष्य को चाबी की तरह बनना चाहिए-साध्वी सुविधि
यशवंतपुर में धर्मसभा
बेंगलूरु. यशवंतपुर स्थानक में विराजित साध्वी सिधिसुधा की शिष्या साध्वी सुविधी ने कहा कि मनुष्य की पांचों इन्द्रीयों में कान दो हंै काम एक है सुनना, नाक के दो द्वार है काम एक है सूंघना, आंखे दो है काम एक है देखना। सिर्फ जिव्हा एक है लेकिन काम दो है मीठा और कड़वा बोलना। मीठे शब्द हृदय में बस जाते हंै, कड़वे बोल हृदय को चोट पहुचाते हैं। शब्दों का प्रयोग सोच समझकर करना चाहिए। चाबी और हथोड़े से ताला खोल सकते हैं चाबी बिना चोट के ताला खोलती है और हथौड़ा चोट करके खोलता है। दोनों के काम एक हंै लेकिन तरीका अलग-अलग है। हमें हथोड़े की तरह नहीं बनना है। चाबी की तरह बनकर खोलना चाहिए। शब्दों का प्रयोग बहुत ही सोच समझकर करने चाहिए। एक शब्द औषधि का काम करती है एक शब्द जहर का काम करती है। हमें ओषधि बनना है। अधिक बोलने से बचना, अप्रिय बोलने से बचना, असत्य बोलने से बचना, असमय बोलने से बचना। अगर हम अपने जीवन मे इसका अनुशरण करेंगे तो अवश्य ही सबके दिलों में अपनी जगह बनाएंगे। प्रवचन के प्रारंभ में साध्वी समिति ने भजन सुनाया। संघ मंत्री रमेश बोहरा ने बताया कि सुबह की युवाओं की मोटिवेशनल क्लास में काफी संख्या में युवाओं ने भाग लिया। साध्वी सोमवार सुबह विहार कर राजाजीनगर पहुंचेंगी।
संस्कारों की भूख वाला सच्चा विद्यार्थी-आचार्य महेन्द्रसागर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

सेना का 'मिनी डिफेंस एक्सपो' कोलकाता में 6 से 9 जुलाई के बीचGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'Women's T20 Challenge: वेलोसिटी ने सुपरनोवास को 7 विकेट से हरायानवजोत सिंह सिद्धू को जेल में मिलेगा स्पेशल खाना, कोर्ट ने दी अनुमतिSSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़प
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.