scriptAcharya Mahashraman-Muni Arhat Kumar was the talent of two artists | दो कलाकार की तराशी गई प्रतिभा आचार्य महाश्रमण-मुनि अर्हत कुमार | Patrika News

दो कलाकार की तराशी गई प्रतिभा आचार्य महाश्रमण-मुनि अर्हत कुमार

आचार्य का दीक्षा दिवस युवा दिवस के रूप में मनाया

बैंगलोर

Published: May 16, 2022 08:57:23 am

बेंगलूरु. तेरापंथ युवक परिषद हनुमंतनगर की ओर से आचार्य महाश्रमण के दीक्षा दिवस को युवा दिवस के रूप में मुनि अर्हतकुमार आदि ठाणा-3 के सान्निध्य में पार्क वेस्ट स्थित कमलेश धर्मेश कोठारी के यहां आयोजित किया गया। मुनि अर्हतकुमार ने श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए कहा हर प्राणी संसार रूपी दुर्गम जंगल में भटक रहा है। उसे वहां से सही पथ का दर्शन कराने वाला जीपीएस है दीक्षा। दीक्षा खोने की प्रक्रिया है। हर आदमी पाने की चाहत करता है और जहां खोने की बात आती है तो वह खोना नहीं चाहता है, पर बिना खोए व्यक्ति कुछ प्राप्त नहीं कर सकता है। बीज को वटवृक्ष बनाने के लिए अपना अस्तित्व मिटाना पड़ता है। उसी प्रकार आत्मा को परमात्मा का दिव्य स्वरूप पाने के लिए अहंकार, ममकर, राग, द्वेष सबका अस्तित्व मिटाना पड़ता है। संयम पथ पर वही बढ़ सकता है जिसके भीतर तठस्थ भाव होता है सम भाव होता है। दीक्षा वेश बदलने से नहीं होती दीक्षा का वास्तविकता स्वरूप है भीतर का रूपांतरण।

दो कलाकार की तराशी गई प्रतिभा आचार्य महाश्रमण-मुनि अर्हत कुमार
दो कलाकार की तराशी गई प्रतिभा आचार्य महाश्रमण-मुनि अर्हत कुमार
दो कलाकार की तराशी गई प्रतिभा आचार्य महाश्रमण-मुनि अर्हत कुमारआचार्य महाश्रमण जिन्होंने अल्प आयु में संयम का मार्ग को स्वीकार कर अपने जीवन को संयम की साधना में पूरी तरह लगा दिया। दो कलाकारों के हाथ से तराशी गई एक प्रतिमा आज भगवान बन गई। श्रमण तो बहुत होते हंै पर महाश्रमण वहीं होता है जिसमें विनय की पराकाष्ठा होती है, जिसके जीवन में संयम की सौरभ है, जिसके चेहरे पर रूज़ुता, मृदुता का साक्षात दर्शन हो। आचार्य महाश्रमण जिनका चिंतन समस्या से समाधान की राह बताया है। ऐसे युगपुरुष का नेतृत्व पना मानव जन्म का सौभाग्य है।
सहयोगी मुनि भारतकुमार ने कहा संयम की सौरभ से सुरबित है जिसका कण कण रवि सम उद्दितोधित है जिसका जीवन वह है महाश्रमण बाल मुनि जयदीपकुमार ने गीतिका का संगान किया। कार्यक्रम की शुरुआत नमस्कार महामंत्र से हुआ, महिला मंडल द्वारा मंगलाचरण किया गया। युवक परिषद अध्यक्ष धर्मेश कोठारी ने सभी का स्वागत किया। बीजेएस पार्क वेस्ट अध्यक्ष विनय कानूंगा, महिला मंडल मंत्री सरस्वती बाफना ने विचार व्यक्त किए। संयोजक मोहित भंडारी का विशेष श्रम रहा। मंत्री महावीर कटारिया ने संचालन किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछकर्नाटक में पुजारियों ने मंदिर के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, ठगे 20 करोड़ रुपएAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात- रिपोर्ट'अग्निपथ' के विरोध में तेलंगाना के सिकंदराबाद में ट्रेन में आग लगाने वालों की वायरल हो रही वीडियो, पुलिस ने पहचान कर किया गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.