जिले के सभी अस्पतालों का कायाकल्प होगा

जिले के सभी अस्पतालों में सुधार किया जाएगा।

By: Sanjay Kulkarni

Published: 17 Jun 2020, 11:06 AM IST

उडुपी. कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण जिले के अस्पतालों की खामियां उजागर हुई हैं। इसे गंभीरता से लेते हुए एक विशेष योजना के माध्यम से जिले के सभी अस्पतालों में सुधार किया जाएगा। इस के लिए आवश्यक फंड जिला प्रशासन के पास उपलब्ध है। जिलाधिकारी जे जगदीश ने यह बात कही।

जिला पंचायत के सभागार में कोरोना वायरस नियंत्रण कार्यक्रम की समीक्षा बैठक के पश्चात उन्होंने कहा कि तहसील मुख्यालय कुंदापुर स्थित जे शंकर अस्पताल को कोविड-19 चिकित्सा केंद्र में परिवर्तित किया जाएगा।अभी इस अस्पताल को भारतीय स्टेट बैंक की ओर से 4 तथा इंफोसिस फाउंडेशन की ओर से 3 वेंटिलेटर्स मिले हैं। अस्पताल में कम से कम 40 बिस्तरों पर अबाधित ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी।

जिले के सभी प्राथमिक चिकित्सा केंद्र तथा नर्सिंग होम में फीवर क्लिनिक स्थापित करने के लिए सूचित किया गया है। यहां पर होनेवाले परीक्षण तथा रिपोर्ट की जानकारी उसी दिन जिला प्रशासन को देने को कहा गया है।उन्होंने कहा कि जिले में जो लोग होम क्वारंटाइन में हैं उनकी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के कर्मचारी लगातार निगरानी रख रहे हैं।जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना वायरस के कोई लक्षण दिखने पर ऐसे व्यक्ति को तुरंत कोरोना चिकित्सा अस्पताल में भर्ती करने के निर्देश दिए गए हैं।

जिले में चिकित्सा के बाद इस बीमारी से मुक्त होने वालों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। अन्य राज्यों से उडुपी आ रहे लोगों की निगरानी की जा रही है। बैठक में जिला सर्जन डॉ मधुसूदन नायक, डीएचओ डॉ सुधीरचंद्र सूडा समेत विभिन्न विभागों के प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।

आगुंबे घाटी में भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक

शिवमोग्गा. जिला प्रशासन ने एहतियात के तौर पर आगुंबे घाटी में भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी है। जिलाधिकारी केबी शिवकुमार ने यहां मंगलवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि बारिश के दिनों में घाटी में भूस्खलन की संभावनाओं को देखते हुए 15 अक्टूबर तक घाटी में भारी वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया गया है। इस घाटी में 12 टन से अधिक भार वाले वाहनों पर प्रतिबंध होगा। इस दौरान भारी वाहन विकल्प के रूप में शिवमोग्गा-तीर्थहल्ली-श्रृंगेरी-करेकट्टे-कार्कला-उडुपी-मेंगलूरु या शिवमोग्गा-तीर्थहल्ली-मस्तीकट्टे, हुलिकल-होसाअंगडी-सिद्धापुरा, उडुपी-मेंगलूरु सड़क का उपयोग कर सकते है।

COVID-19
Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned