लोकप्रियता ऐसी कि राजनीतिक मैदान में अडिग रहे अंगड़ी

बुधवार को कोरोना संक्रमण से हुआ निधन

By: Santosh kumar Pandey

Published: 23 Sep 2020, 11:01 PM IST

बेंगलूरु. बुधवार को दिल्ली में कोरोना संक्रमण के कारण अंतिम सांस लेने वाले केन्द्रीय रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी अपनी व्यवहारकुशलता के दम पर बेहद लोकप्रिय थे। बेलगावी में उनकी लोकप्रियता का आलम यह था कि वे बेलगावी से लगातार चार बार सांसद चुने गए। वर्ष 2004 से ही वे चुनावी मैदान में अजेय रहे। 65 वर्षीय अंगड़ी के परिवार में उनकी पत्नी और दो बेटियां हैं।

ऐसा रहा जीवन
बेलगावी के कोप्पा गांव में 1 जून, 1955 को एक लिंगायत परिवार में सोमवा और चन्नबसप्पा के घर जन्मे अंगड़ी ने एसएसएस समिति कॉलेज ऑफ कॉमर्स से अपनी स्नातक की पढ़ाई की। उन्होंने बेलगावी के राजा लखमण गौड़ा लॉ कॉलेज से कानून में स्नातक की डिग्री प्राप्त की।

यह खबर भी पढि़ए: रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगड़ी का निधन

युवावस्था में ही आरएसएस से जुड़ाव

युवावस्था में ही आरएसएस से जुडऩे के बाद अंगड़ी का राजनीतिक करियर भाजपा के बेलगावी जिला उपाध्यक्ष के रूप में शुरू हुआ। वर्ष २००४ में जब उन्हें लोकसभा का उम्मीदवार बनाया गया तब तक वह पार्टी को जिला उपाध्यक्ष ही थे। राजनीति के मैदान में उन्होंने कभी पराजय का मुंह नहीं देखा और वर्ष 2004, 2009, 2014 और 2019 में भी विजयी रहे।
उनके पास बेंगलूरु और कर्नाटक के लिए बड़ी योजनाएं थीं। बेंगलूरु में उप-नगरीय रेलवे परियोजना को अमल में लाने में उनकी बड़ी भूमिका थी।

COVID-19 virus
Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned