निगम, बोर्ड अध्यक्षों की नियुक्तियां अधर में

राज्य के निगम, बोर्ड अध्यक्ष पदों पर कांग्रेस के 19 विधायकों को नियुक्त करने की कांग्रेस की सिफारिश को दरकिनार करते हुए मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने 14 नामों को ही स्वीकृति प्रदान की है। जिससे पांच निगम बोर्ड अध्यक्षों की नियुक्तियां अब अधर में हैं। इससे कांग्रेस के विधायकों में नाराजगी और बढऩे की चर्चा है।

By: Santosh kumar Pandey

Published: 07 Jan 2019, 06:04 PM IST

मुख्यमंत्री ने 14 नियुक्तियों को ही दी मंजूरी
संसदीय सचिव पद पर गोपालस्वामी का नाम भी अटका
बेंगलूरु. राज्य के निगम, बोर्ड अध्यक्ष पदों पर कांग्रेस के 19 विधायकों को नियुक्त करने की कांग्रेस की सिफारिश को दरकिनार करते हुए मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने 14 नामों को ही स्वीकृति प्रदान की है। जिससे पांच निगम बोर्ड अध्यक्षों की नियुक्तियां अब अधर में हैं। इससे कांग्रेस के विधायकों में नाराजगी और बढऩे की चर्चा है।

कांग्रेस ने बीडीए के अध्यक्ष पद के लिए यशवंतपुर के विधायक एच.टी. सोमशेखर के नाम की सिफारिश की थी, लेकिन रविवार की शाम जारी सूची में उनका नाम नहीं है। बीएमआरटीसी के अध्यक्ष पद के लिए शांतिनगर के विधायक एन.ए. हैरिस के नाम की सिफारिश थी, लेकिन सूची में उनका नाम भी नहीं है।
कर्नाटक राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष पद के लिए डॉ. सुधाकर, कर्नाटक सड़क विकास निगम के लिए टी. वेंकटरमणय्या तथा कर्नाटक रेशम उद्योग विकास निगम के अध्यक्ष के लिए अनुशंसित एस.एन. सुब्बारेड्डी के नाम भी सूची में नहीं हैं।

कांग्रेस ने संसदीय सचिव पदों के लिए जिन 9 नामों की सिफारिश की थी, उनमें से एम.ए. गोपालस्वामी को छोड़कर शेष आठ को स्वीकृति प्रदान कर दी गई है।
बताया जाता है कि जो निगम, बोर्ड जनता दल-एस के मंत्रियों के विभागों के अधीन आते हैं, उनके अध्यक्ष पदों पर कांग्रेस के विधायकों को नियुक्त करने पर जद-एस नेताओं व मुख्यमंत्री को आपत्ति है। उदाहरण के लिए परिवहन विभाग जद-एस के पास है, लिहाजा बीएमआरटीसी में हैरिस को नियुक्त नहीं किया गया है।

लोक निर्माण विभाग एचडी रेवण्णा के पास है, इसीलिए कर्नाटक सड़क विकास निगम के अध्यक्ष पद पर टी. वेंकटरणय्या की नियुक्त नहीं की गई है। कर्नाटक रेशम उद्योग विकास निगम में एस.एन. सुब्बा रेड्डी को नियुक्त नहीं किया गया है। सुधाकर को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड में नियुक्त करने पर मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने पहले ही आपत्ति जताई थी। बीडीए के अध्यक्ष पद पर एसटी सोमशेखर की नियुक्त पर भी जनता दल के नेता सहमत नहीं हैं और इस पद को अपनी पार्टी के लिए मांग रहे हैं।

जिन आठ संसदीय सचिवों की नियुक्तयों का अनुमोदन किया गया है, उनमें अंजली निंबालकर, रूपा शशिधर, राघवेन्द्र हितनाल, दुर्गप्पा हुल्लगेरी, महातेश कौजलगी, अब्दुल जब्बार, आइवन डिसूजा तथा के. गोविंदराज के नाम शामिल हैं।

 

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned