क्या भाजपा के नेता दूध के धुले हुए हैं : पूर्व प्रधानमंत्री

क्या भाजपा के नेता दूध के धुले हुए हैं : पूर्व प्रधानमंत्री
Symbolic

Ram Naresh Gautam | Updated: 12 Oct 2019, 12:57:57 AM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

  • क्या भाजपा नेताओं की ओर से संचालित किसी भी संस्था में आयकर विभाग को भ्रष्टाचार नजर नहीं आ रहा है?

मैसूरु. कांग्रेस नेताओं के स्वामित्व वाले शिक्षण संस्थाओं में आयकर विभाग की कार्रवाई को पूर्व प्रधानमंत्री (Former Prime Minister) एचडी देवगौड़ा (HD Devegowda) ने पक्षपातपूर्ण करार दिया है।

उन्होंने कहा कि क्या भाजपा (BJP) के नेता दूध के धुले हुए हैं? क्या भाजपा नेताओं की ओर से संचालित किसी भी संस्था में आयकर विभाग (Incom Tax Department) को भ्रष्टाचार नजर नहीं आ रहा है?

यहां शुक्रवार को जनता दल-एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि डॉ. जी परमेश्वर (G Parmeshwara) तथा आरएल जालप्पा के शिक्षण संस्थानों पर आयकर विभाग की कार्रवाई एकपक्षीय है।

hdd_01.jpg

डॉ. जी. परमेश्वर रातोरात धनवान नहीं बने हैं, उनके के पिता ने 40 वर्ष पहले ही कई संस्थान स्थापित किए हैं। इन संस्थानों ने 10 हजार से अधिक विद्यार्थियों को अध्ययन का अवसर देकर योगदान दिया है।

ऐसे में इस संस्था को लक्ष्य बनाना ठीक नहीं है। परमेश्वर तथा जालप्पा के खिलाफ की गई यह कार्रवाई राजनीति से प्रेरित है।


स्थानीय नेता ही होगा हुणसूर से प्रत्याशी
एक सवाल पर उन्होंने कहा कि हुणसूरु विधानसभा क्षेत्र के लिए उप चुनाव में किसी स्थानीय नेता को ही प्रत्याशी बनाया जाएगा। इस क्षेत्र से उनके परिवार का कोई भी सदस्य चुनाव नहीं लड़ेगा।

विधानसभा अध्यक्ष को लिखा पत्र
देवगौड़ा ने कहा कि विधानमंडल के सत्र के दौरान मीडिया के एक वर्ग पर लगाया गया प्रतिबंध तार्किक नहीं है। इस फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी को पत्र लिखा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned