बलात्कार व हत्या के प्रयास करने का आरोपी गिरफ्तार

परप्पन अग्रहार पुलिस ने एक महिला से बलात्कार और उसकी हत्या के प्रयास के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

By: शंकर शर्मा

Published: 10 Mar 2019, 12:54 AM IST

बेंगलूरु. परप्पन अग्रहार पुलिस ने एक महिला से बलात्कार और उसकी हत्या के प्रयास के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार तमिलनाडु का काशीनाथ (३५) निर्माण मजदूर है। उसने पुलिस थाने में आत्मसमर्प किया और कहा उसने पत्नी की हत्या की है। पुलिस काशीनाथ को घटना स्थल टी. बेगूर के एक मकान में ले गई। वहां एक महिला बेहोश पड़ी थी। पुलिस ने उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां होश में आने पर महिला का बयान दर्ज किया गया।

महिला ने बताया कि वह एक दुकान चलाती है। काशीनाथ हर दिन वहां कुछ ना कुछ खाने आता था। फिर पहचान बढ़ाकर घर पर भी आने लगा। इससे नाराज पति ने चार साल पहले तलाक दे दिया। महिला के अनुसार वह अपनी मां और बच्चों के साथ रहती है। दो माह पहले काशीनाथ फिर उसके घर आया तो पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई, इसके बाद वह कुछ दिनों तक घर नहीं आया।


पुलिस के अनुसार काशीनाथ ने दो साल पहले उसका अपहरण कर जबरन बलात्कार करने का भी प्रयास किया था। इसके बाद उसके बच्चों की हत्या की धमकी देकर बलात्कार किया। तब महिला ने कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई थी।
गत गुरुवार को वह घर पर अकेली थी, तभी आरोपी ने उसका बलात्कार करने का प्रयास किया। जब विरोध किया तो लकड़ी महिला के सिर पर वार कर दिया। जिससे वह गिर पड़ी और बेहोश हो गई। पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ बलात्कार और हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है।

३९ साल बाद हत्थे चढ़ा हमले का आरोपी
मेंंगलूरु. मेंगलूरु दक्षिण पुलिस ने जानलेवा हमले के एक मामले में ३९ साल बाद आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार आरोपी की पहचान जप्पिमोगरू क्षेत्र के विंसेंट डिसूजा (५७) के तौर पर की गई है। वह अवैध रूप से शराब की तस्करी करता था।

इसके विरोध में पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करने वाले गणेश शेट्टी पर डिसूजा ने जानलेवा हमला किया था। उस समय डिसूजा की उम्र १८ साल थी। इस सिलसिले में दक्षिण पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया था। साल गुजरते गए लेकिन डिसूजा न्यायालय में सुनवाई के लिए पेश नहीं हुआ। इसी दौरान डिसूजा नौकरी की तलाश में विदेश चला गया। वहां अच्छा कारोबार कर उल्लाल में भव्य घर बनवाया। कुछ समय पूर्व वह विदेश से लौट आया और उल्लाल में ही रहने लगा।


संदीप पाटिल ने पुलिस आयुक्त का पद भार संभालने के बाद पुराने मामलों की फाइलों की जांच पड़ताल की। उन्होंने डिसूजा के खिलाफ दर्ज मामले की फाइल देखी और डिसूजा का पता लगाने के निर्देश दिए। उसके उल्लाल में रहने की सूचना के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned