जैसा कर्म करोगे वैसा फल पाओगे

जैसा कर्म करोगे वैसा फल पाओगे

Shankar Sharma | Publish: Oct, 14 2018 01:50:24 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ, सिद्धार्थनगर सीआइटीबी परिसर में श्रुत मुनि ने कहा कि हर दिन शुभ है, हर समय अच्छा एवं उत्तम है।

मैसूरु. वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ, सिद्धार्थनगर सीआइटीबी परिसर में श्रुत मुनि ने कहा कि हर दिन शुभ है, हर समय अच्छा एवं उत्तम है। हमें समय का सदुपयोग करते हुए सद्कर्म, सद्विचार, सद्गुण धारण करने का प्रयास करना चाहिए।


कर्म हमें मोक्ष एवं नरक की यात्रा करवाते हंै। उन्होंने कहा कि शुभ, अशुभ फल प्रदाता है। सुख एवं दु:ख पहुंचने वाले हैं। व्यक्ति की उन्नति एवं अवन्नति भी कर्मों द्वारा ही होती है। शास्त्रों में भी लिखा है जैसा कर्म करोगे वैसा पाओगे। सर्वत्र जगत में कर्मों को कोई नहीं मोड़ सकता है, न ही रिश्वत देकर टाला जा सकता है। कर्म ही व्यक्ति को हंसाता है एवं कर्म ही रुलाता है। कर्म उदय में आए तो भाई-भाई दुश्मन बन जाते हैं एवं अपरिचित व्यक्ति भी मित्र बन जाता है।


कर्म भव तक आत्मा के साथ बंधे हुए होते हैं। अत: कर्म उदय में आए तो समभाव से स्वीकारना, धर्म की डोर में बंधे रहना एवं धैर्यवान गंभीर बनते हुए कर्म निर्जरा का समावेश जीवन में करना। आत्मा के लिए इस भव एवं भव-भव के लिए हितकर है। प्रमोद श्रीमाल ने बताया कि पंच दिवसीय बाल संस्कार शिविर गतिमान है।

म्हारे जगदंबा रा नाम हजार कैसे लिखूं...

मैसूरु. राजस्थान मित्र मंडल के तत्वावधान में एचडीकोटे में हुणसुर मार्ग स्थित मंगल मंडप में शुक्रवार रात को मां भगवती जागरण आयोजित किया गया। प्रारंभ में मां भगवती की तस्वीर पर पुष्पहार अर्पित कर ज्योत प्रज्वलित किया गया और भोग चढ़ाया गया। पं सतीश ने विधि-विधान से पूजा-अर्चना की।

धर्मसभा में कलाकार राजेंद्र कुमावत व पार्टी ने नवरात्रि में नवदिन आवे मने घणा, मन भावे जी..., हिरदे मे राखु परदा में राखंू...,मायड़ थारो वो पूत कठे वो एकलिंग रो दिवान कठे वो महाराणा प्रताप कठे..., म्हारे जगदंबा रा नाम हजार कैसे लिखूं कंकुपतरी... आदि राजस्थानी लोक भजनों की प्रस्तुति दी।


डांडिया की धूम
मंड्या. सीरवी समाज नवयुवक मंडल, बेलूर क्रॉस की ओर से आइमाता बडेर प्रांगण में चल रहे डांडिया में युवक-युवतियां हिंदी गुजरती गरबा गीतों पर डांडिया नृत्य का आनंद ले रहे हैं। मंडल अध्यक्ष प्रीतेश आगलेचा ने बताया कि आइमाता का दरबार सजा है।

Ad Block is Banned