बीबीएमपी शिक्षा विभाग में खेल सामग्री खरीदी में व्यापक भ्रष्टाचार

बृहद बेंगलूरु महानगरपालिका (बीबीएमपी) के सार्वजनिक शिक्षा विभाग में खेल सामग्री की खरीदी, शू सॉक्स गणवेष खरीदी के लिए निर्धारित नियमों का उल्लंघन कर 3 करोड़ 80 लाख रुपए का दुरुपयोग किया गया है। वर्ष 2017-18 की लेखापाल की रिपोर्ट में शिक्षा विभाग के 18 करोड़ 65 लाख रुपए के निर्माण कार्यों पर भी आपत्ती दर्ज की गई है।

By: Sanjay Kulkarni

Published: 19 Mar 2020, 09:16 PM IST

बेंगलूरु.वर्ष 2017-18 में बीबीएमपी के स्कूल तथा कॉलेज में 'अंगलाÓ नामक खेलकुद प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया था। नियमों के अनुसार बीबीएमपी के सभी 198 वार्डों में ऐसी प्रतियोगिता का आयोजन करना था लेकिन केवल 48 वार्डों में ऐसी प्रतियोगिता का आयोजन कर बडे पैमाने पर खेल सामग्री खरीदी के बोगस बिल बनाकर भ्रष्टाचार किया गया है।लेखापाल की रिपोर्ट के मुताबिक 'हैपी इवेंटस नामक कंपनी को इस प्रतियोगिता के आयोजन का जिम्मा सौंपा गया था। इस कंपनी को इस आयोजन के लिए प्रति वार्ड 96 लाख रुपए का भूगतान किया गया है।साथ में इस प्रतियोगिता के लिए बगैर बिल खरीदी गई सामग्री के लिए 42 लाख रुपए का के भुगतान पर लेखापाल की रिपोर्ट में आपत्ती दर्ज की गई है। बीबीएमपी के स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए कर्नाटक राज्य औद्योगिक आपूर्ति तथा विपणन सहकारिता संघ के माध्यम से नोटबूक खरीदे गए। लेकिन निविदा की शर्त के मुताबिक इस आपूर्ति की किसी तीसरे पक्ष से जांच नहीं की गई है। इस निविदा के लिए नियमों के मुताबिक 5 फीसदी धरोहर राशि माने लगभग 1 करोड़ 16 लाख रुपए की सुरक्षा राशि नहीं वसूली गई है।लेखापाल ने इस राशि को ठेकेदार से वसूलने की सिफारीश की है। एक्सेल स्पोर्टस नामक कंपनी के माध्यम से निविदा के नियमों का उल्लंघन कर लाखो रूपए मूल्य की खेल सामग्री खरीदी गई है। इस कंपनी से 19 लाख 79 हजार की धरोहर राशि नहीं वसूल5ी गई है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned