scriptBangalore becomes a lake due to torrential rains even before monsoon | मानसून से पहले ही मूसलाधार बारिश से झील बना बेंगलूरु | Patrika News

मानसून से पहले ही मूसलाधार बारिश से झील बना बेंगलूरु

- Chickpet क्षेत्र की सड़कें लबालब, दुकानों में पानी घुसा

बैंगलोर

Updated: May 18, 2022 11:38:34 pm

Bengaluru में एक माह पहले शुरू हुआ Rain का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। मंगलवार शाम हुई करीब दो घंटे तक हुई झमाझम के कारण शहर के निचले इलाकों के साथ ही कई जगह water on road भर गया। दिन भर आसमान में बादल छाए रहे और थम-थम कभी तेज बारिश तो कभी रिमझिम होती रही। शाम के बाद तेज हवा और गरज के साथ बारिश हुई। सड़कों और गलियों में जलजमाव के कारण वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

मानसून से पहले ही मूसलाधार बारिश से झील बना बेंगलूरु
मानसून से पहले ही मूसलाधार बारिश से झील बना बेंगलूरु

3-3 फीट पानी भरा

Chickpet Metro Station के बाहर, सुल्तान पेट, ओल्ड तरगुपेट में तीन-तीन फीट पानी सड़कों पर जमा हो गया है। कई दुकानों में पानी भरने से सामान भीग गया है। साथ सड़कों के मेनहोल पानी से लबालब होने से दुर्घटना का अंदेशा बढ़ गया है।

गत 16 अप्रेल शाम को शुरू हुई बारिश ने जमकर कहर बरपाया था। उस दिन भी सुल्तानपेट, ओल्ड तरगुपेट, बीवीके अयंगर रोड से जुड़ी आरकाट श्रीनिवास चार स्ट्रीट ने झील का रूप धारण कर लिया था। कई दुपहिया और चारपहिया वाहन क्षतिग्रस्त हो गए थे।

Trade activist Sajjanraj Mehta ने बताया कि तब बृहद बेंगलूरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) के तत्कालीन आयुक्त गौरव गुप्ता का ध्यान इस ओर आकर्षित किया था। अगले दिन 17 अप्रेल को संयुक्त आयुक्त श्रीनिवासन व मुख्य अभियंता विश्वनाथ ने ओल्ड तरगुपेट और सुल्तानपेट का दौरा किया था। दोनों ही अधिकारियों ने मातहत अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। पिछले सप्ताह तक कुछ भी कार्य शुरू नहीं होने के कारण वापस शिकायत करने पर मौका निरीक्षण करने पहुंचे अधिकारियों ने सोमवार को सफाई का काम शुरू कराया था। लेकिन, मंगलवार को हुई मूसलाधार बारिश ने बीबीएमपी की पूरी पोल खोल कर रख दी। मेहता ने बताया कि बीबीएमपी के नवनियुक्त आयुक्त तुषार गिरिनाथ को वापस फोन पर शिकायत की तो उन्होंने टीम भेजने का आश्वासन दिया। मुख्य अभियंता विश्वनाथ को भी चिकपेट की स्थिति से अवगत कराया।

शहर में जारी रहेगी बरसात, Orange Alert जारी
बेंगलूरु. बेंगलूरु में मंगलवार शाम जमकर बरसात हुई। अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार बेंगलूरु में बुधवार को भी बारिश का दौर जारी रहेगा। विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। विभाग ने कहा है कि बुधवार को अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। इसके लिए बेंगलूरु ग्रामीण और बेंगलूरु शहर के लिए अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने बुलेटिन में कहा कि तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग इलाकों में बादलों की गरज और बिजली कड़कने के साथ भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: अयोग्यता नोटिस के खिलाफ शिंदे गुट पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, सोमवार को होगी सुनवाईMaharashtra Political Crisis: एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने पर दिया बड़ा बयान, कहीं यह बातBypoll Result 2022: उपचुनाव में मिली जीत पर सामने आई PM मोदी की प्रतिक्रिया, आजमगढ़ व रामपुर की जीत को बताया ऐतिहासिकRanji Trophy Final: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, 41 बार की चैम्पियन मुंबई को 6 विकेट से हरा जीता पहला खिताबKarnataka: नाले में वाहन गिरने से 9 मजदूरों की दर्दनाक मौत, सीएम ने की 5 लाख मुआवजे की घोषणाअगरतला उपचुनाव में जीत के बाद कांग्रेस नेताओं पर हमला, राहुल गांधी बोले- BJP के गुड़ों को न्याय के कठघरे में खड़ा करना चाहिए'होता है, चलता है, ऐसे ही चलेगा' की मानसिकता से निकलकर 'करना है, करना ही है और समय पर करना है' का संकल्प रखता है भारतः PM मोदीSangrur By Election Result 2022: मजह 3 महीने में ही ढह गया भगवंत मान का किला, किन वजहों से मिली हार?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.