संक्रमित शवों के अंतिम संस्कार के लिए 10 श्मशान घाट बनेंगे

दस जगहों पर शमशान घाट के लिए भूमि

By: Sanjay Kulkarni

Updated: 18 Apr 2021, 06:23 AM IST

बेंगलूरु. शहर में कोरोना से दम तोडऩे वाले संक्रमितों के शवों का अंतिम संस्कार करने के लिए बृहद बेंगलूरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) 10 जगहों पर श्मशान घाट बनाएगा।बेंगलूरु शहरी जिले के जिलाधिकारी जे.मंजुनाथ ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया कि बेंगलूरु उत्तर सहसील के दासानापुर होबली के गिड्डनाहल्ली में 4 एकड़, अग्राहर पाल्या में 3 एकड़, बेंगलूरु दक्षिण तहसील के उत्तरहल्ली होबली के गुलिकामाले में 4 एकड़, आनेकल तहसील के जिगनी होबली के गिड्डप्पनाहल्ली में 4 एकड़, सर्जापुर होबली के इट्टंगूर में 3.19 एकड़, यलहंका तहसील के जाला होबली के कुदुरेगेरेे में 1.10 एकड़, महादेवा कोडिगेहल्ली में 1.20 एकड़, मारेनाहल्ली में 12 गुन्टे, बोयिलाहल्ली में 1 एकड़, हुणसूरु में 1 एकड़ समेत दस जगहों पर शमशान घाट के लिए भूमि की निशानदेही की गई है।
उन्होंने कहा कि सरकार ने पालिका का विस्तार करने भूमि आवंटित करने का फैसला लिया था। पालिका और जिला प्रशासन ने जगहों की निशानदेही कर श्मशान घाटों का निर्माण कार्य सोमवार से शुरू करने का फैसला लिया है। तहसीलदारों को सरकारी भूमि पालिका को स्थानांतरित करने के आदेश दिए गए थे। तहसीलदारों ने मरने वाले संक्रमितों की संख्या बढऩे के कारण शनिवार को ही जमीन स्थानांतरित कर दी। एक भूमि का विवाद चल रहा है। इसे बातचीत से सुलझाने का प्रयास जारी है।
जे.मंजुनाथ ने कहा कि पहले उत्तर तहसील के गिडेनाहल्ली में 4 एकड़, आनेकल तहसील में 3 एकड़, दक्षिण तहसील के सोमानाहल्ली में 1.18 एकड़, गुलिकामले में दो जगहोंं पर 4 एकड़, यलहंका के एम.होसाहल्ली में 2 एकड़, हुत्ताहल्ली में 2 एकड, मारेनाहल्ली में 5 एकड़ और मावल्लीपुर में 5 एकड़ समेत कुल 35.18 एकड़ भूमि की निशानदही की गई थी। इन क्षेत्रों के नागरिकों ने श्मशान घाट निर्माण का विरोध किया। इसलिए केवल 23.5 एकड़ में श्मशान घाट बनोए जाएंगे।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned