कोरोना के प्रति जागरूक रहें, डरें नहीं: आचार्य मेघदर्शन सूरी

  • चैत्री ओली की आराधना

By: Santosh kumar Pandey

Published: 03 May 2021, 05:45 PM IST

बेंगलूरु. आचार्य मेघदर्शन सूरी ने कोलार में चैत्री ओली की आराधना कराने के बाद विहार कर बंगारपेट जैन संघ पहुंचे। बंगारपेट संभवनाथ जैन संघ ने और यहां चैत्री ओली की आराधना कराने के लिए पहुंचे कीर्ति घोष तथा मुक्तिश्रमण ने संतों का स्वागत किया।
आचार्य ने कहा कि जैनशासन हमें निर्भय बनाता है। परमात्मा की शरण स्वीकारने वाले कभी भी भयभीत नहीं होते। कोरोना के समय डरना या घबराना नहीं है। जो डरता है उसको ही कोरोना होता है।

सावचेती अवश्य रखना, लेकिन डरना नहीं

सावचेती अवश्य रखना, लेकिन डरना नहीं। दो गज का अंतर रखिए। सरकारी सूचनाओं पर अमल कीजिए। उवसग्गहरं, संतिकरं, छोटी शांति, बड़ी शांति आदि का सृजन ही ऐसी महामारी से बचाने के लिए किया गया था। प्रभु का अभिषेक करते समय नवकार, उवसग्गहरं, संतिकरं, छोटी शांति, बड़ी शांति 12 बार बोलिए और अभिषेक जल का छिडक़ाव कीजिए। उन्होंने कहा कि बुद्धिमान तो वह है जो सजा से नहीं, गुनाह से डरता है।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned