अब बेंगलूरु को जाम से मुक्ति दिलाएगी नई ट्रैफिक नियंत्रण योजना

ट्रांजिट हब से साकार होगी बेंगलूरु की सुगम ट्रैफिक व्यवस्था
सिटी में वर्जित होगा इंटरसिटी बसों का प्रवेश

बेंगलूरु. ट्रैफिक की विकराल होती समस्या का निदान तलाशने के लिए राज्य सरकार ने आठ मल्टी-मॉडल ट्रांसपोर्ट हब विकसित करने पर काम शुरू किया है। इसके तहत शहर के अलग अलग क्षेत्रों के प्रवेश मार्ग पर बस और मेट्रो या रेल सेवाओं का एकीकरण किया जाएगा। इससे यात्रियों को एक साथ सार्वजनिक परिवहन के बहुविकल्प मिलेंगे और वे निजी वाहनों को छोडक़र सार्वजनिक परिवहन सेवाओं का उपयोग कर सकेंगे।

वर्ष 2019-20 के बजट में राज्य सरकार ने बेंगलूरु में मेट्रो, रेल और बीएमटीसी बसों के एकीकरण के लिए शहर के प्रवेश इलाकों में ट्रांजिट हब बनाने का प्रस्ताव किया था। अब उसी पर काम शुरू किया जाएगा। अधिकारियों के अनुसार ट्रांजिट हब के लिए जल्द ही निविदाएं जारी होंगी जिसके बाद नागरिकों को बहुवैकल्पिक सार्वजनिक परिवहन सेवाओं को लाभ मिल सकेगा।

परिवहन विशेषज्ञों के अनुसार ट्रैफिक नियंत्रण और प्रबंधन की दिशा में इसे एक कारगर पहल माना जा सकता है। इससे प्रतिदिन बड़ी संख्या में बाहरी वाहनों को शहर में प्रवेश नहीं होगा। साथ ही सडक़ों से निजी वाहनों का दबाव भी घटेगा जिससे ट्रैफिक प्रणाली व्यवस्थित होगी।
शहर के बाहरी हिस्सों में रुकेंगी बसें
इंटरसिटी बसों को शहर के बाहरी हिस्सों में प्रवेश इलाके में ही रुकना होगा। यात्री वहां से ट्रांजिट हब की सेवाओं का लाभ ले सकेंगे और बीएमटीसी बसों या मेट्रो और रेल के माध्यम से शहर के भीतरी इलाके के गंतव्य तक पहुंच सकते हैं। बसों का प्रवेश वर्जित होने से मैजेस्टिक जैसे इलाके में हर दिन हजारों वाहन सडक़ से गायब हो जाएंगे, जो बेहतर और उन्नत ट्रैफिक सेवाएं मुहैया कराने में मददगार साबित हो सकता है।

यहाँ बनेंगे ट्रांजिट हब
चल्लघट्टा - मैसूर रोड (पश्चिम दिशा), बैयप्पनहल्ली - मौजूदा बीएमआरसीएल टर्मिनल, केआर पुरम (पूर्व दिशा), पीनिया - मौजूदा बीएमटीसी टर्मिनल (उत्तर पश्चिम दिशा), बोम्मसंद्रा में मौजूदा बीएमआरसीएल भूमि (दक्षिण दिशा) के अलावे ओल्ड मद्रास रोड और पेरिफेरल रिंग रोड (पीआरआर) जंक्शन (पूर्व दिशा), बेल्लारी रोड और पीआरआर जंक्शन (उत्तर दिशा), कडुगोडी (पूर्व दिशा) में तीन और ट्रांजिट हब निर्माण के लिए स्थान की पहचान करना अभी बाकी है।

यात्रियों के लिए होंगी खास सुविधाएं
ट्रांजिट हब में वेटिंग रूम, वॉशरूम, फूड स्टॉल, छोटी दुकानों के साथ हेल्प डेस्क होगा। इसके अलावा विभिन्न आवागमन के साधन जैसे की ऑटो और टैक्सी सेवाएं होंगी। ट्रांजिट हब में दोपहिया और चार पहिया वाहनों के लिए पार्किंग की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

Priyadarshan Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned