पांच लाख रुपए का बिल देख भड़के मंत्री

- सुधाकर बोले, होगी सख्त कार्रवाई

By: Nikhil Kumar

Published: 01 Aug 2020, 12:13 AM IST

बेंगलूरु. शहर में एक बार फिर एक निजी अस्पताल पर कोविड मरीज को लाखों रुपए का बिल देने का आरोप लगा है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. के. सुधाकर ने खुद इस अस्पताल प्रबंधन को आड़े हाथों लिया (Bengaluru hospial charges covid patient Rs 5 Lakh, faces Minister's wrath) और अपने टिवटर हैंडल पर बिल भी पोस्ट किया।

डॉ. सुधाकर और बिल के अनुसार अस्पताल ने मरीज से पांच लाख रुपए वसूले, जो सरकारी आदेशों का सरासर उल्लंघन है। मंत्री ने कहा कि अस्पताल के खिलाफ वे सख्त कार्रवाई करेंगे।

मंत्री ने कहा कि उन्हें जानकारी मिली है कि इस अस्पताल में कई मरीज परेशान हुए हैं। चेतावनी के बावजूद अस्पताल प्रबंधन बाज नहीं आ रहा है। निजी अस्पतालों में उपचार के इच्छुक मरीजों के लिए सरकार ने पांच से 15 हजार रुपए दैनिक शुल्क तय की है। अस्पताल इससे ज्यादा नहीं ले सकते हैं।

अस्पताल के एक प्रवक्ता के अनुसार प्रबंधन ने मंत्री को बिल की विस्तृत जानकारी दी है। बीमा शुल्क के अनुसार बिलिंग हुई है। प्रवक्ता ने कहा कि 64 वर्षीय पुरुष मरीज को तीन जुलाई को अस्पताल में भर्ती किया गया और उपचार जारी है। परिजनों को बिल की जानकारी दी गई थी। मरीज का बेटा खुद एक चिकित्सक है और स्थिति को समझता है। हालांकि, चिकित्सक बेटे ने कहा कि इस समय वह इस मामले पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता है। पिता अब भी अस्पताल में उपचाराधीन हैं।

उल्लेखनीय है कि कुछ सप्ताह पहले एक और कॉर्पोरेट निजी अस्पताल ने कोविड संदिग्ध मरीज के परिजनों को नौ लाख रुपए से ज्यादा का अनुमानित बिल दिया था।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned