बेंगलूरु के अस्पतालों व सीसीसी में 6 हजार बिस्तर उपलब्ध

- निजी मेडिकल कॉलेज देंगे 5000 बिस्तर

By: Nikhil Kumar

Published: 17 Apr 2021, 10:27 AM IST

बेंगलूरु. केंपेगौड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (किम्स) और बेंगलूरु मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट (बीएमसीआरआइ) में कोविड मरीजों के लिए कुल 1800 बिस्तर उपलब्ध होंगे। अस्पतालों व कोविड देखभाल केंद्रों (सीसीसी) को मिलाकर बेंगलूरु में 6,000 बिस्तर उपलब्ध हैं। इनमें से 2,131 बिस्तर रिक्त हैं। बिस्तरों की संख्या और बढ़ाई जाएगी।

किम्स, बीएमसीआरआइ और सेंट जॉन अस्पताल का दौरा करने के बाद स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. के. सुधाकर ने कहा कि विक्टोरिया अस्पताल में कोविड बिस्तरों की संख्या 400 से बढ़ाकर 750 की गई है। अस्पताल के नजदीकी होटलों को क्वारंटाइन केंद्रों में तब्दील किया जाएगा। यहां 200 बिस्तर उपलब्ध होंगे। बीएमसीआरआइ कुल 950 बिस्तर प्रबंधित करेगा। विक्टोरिया अस्पताल में 70 आइसीयू बिस्तर हैं। अगले दो सप्ताह में 50-100 बिस्तर बढ़ाने की योजना है।

उन्होंने बताया कि किम्स दो से तीन सप्ताह में 500 बिस्तर आरक्षित करेगा। निजी मेडिकल कॉलेजेज भी कुल 5,000 बिस्तर देंगे।

मुख्यमंत्री अस्पताल से करेंगे मार्गदर्शन

डॉ. सुधाकर ने कहा कि मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा की हालत स्थिर है। वे कोरोना टीके की पहली खुराक ले चुके हैं। मुख्यमंत्री अस्पताल से ही मार्गदर्शन करेंगे।

डॉ. सुधाकर ने कहा कि मीडियाकर्मियों को भी फ्रंटलाइन वर्कर मानने के प्रस्ताव पर चर्चा करेंगे। ऐसा होने पर हर उम्र के मीडियाकर्मी भी कोरोना टीका लगवा सकेंगे।

डॉ. सुधाकर ने सेंट जॉन अस्पताल प्रबंधन के साथ भी बैठक की और कोविड मरीजों के लिए बिस्तर देने सहित नजदीकी होटलों में स्टेप डाउन अस्पताल स्थापित करने के निर्देश दिए।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned