पटरी से उतरा बेंगलूरु-कराइकल पैसेंजर ट्रेन का इंजन

घटना में कोई घायल नहीं, पांच घंटे बाद फिर रवाना हुई ट्रेन

बेंगलूरु. बेंगलूरु-कराइकल पैसेंजर ट्रेन का इंजन रविवार सुबह तमिलनाडु के कृष्णागिरि जिले स्थित काडुशेट्टीपट्टी के पास पटरी से उतर गया। संयोगवश इस घटना में किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। घटना सुबह 9.40 बजे के आसपास घटी।
दक्षिण-पश्चिम रेलवे के अधिकारियों के मुताबिक इंजन के पटरी से उतरने की घटना रायकोट्टाई और मारंदहल्ली के बीच घटी जो बेंगलूरु रेलवे डिविजन के बायपनहल्ली-सेलम सेक्शन के अंतर्गत है। ट्रेन सुबह 9.30 बजे रायकोट्टाई स्टेशन से रवाना हुई। लगभग 9.40 बजे बेंगलूरु डिविजन के लोको पायलट एसपी सिंह और गार्ड रमेश कुमार ने नोटिस किया कि इंजन का अगला पहिया पटरी से उतर गया है। बेंगलूरु डिविजन के रेल प्रबंधक अशोक कुमार वर्मा ने बताया कि इस घटना में कोई भी रेल कर्मी अथवा यात्री घायल अथवा हताहत नहीं हुआ। ट्रेन का कोई भी कोच पटरी से नहीं उतरा। वर्मा अन्य रेल अधिकारियों के साथ दुर्घटना स्थल पर सुबह 11.25 बजे के आसपास पहुंच गए।
इस बीच घटना के कारण बेंगलूरु और सेलम के बीच ट्रेनों की आवाजाही प्रभावित हुई। सेलम के यात्रियों के लिए होसूर में बस का बंदोबश्त किया गया। वहीं रायकोट्टाई में फंसे यात्रियों के लिए नाश्ते भी उपलब्ध कराए गए। ट्रेन का इंजन फिर 12.53 बजे पटरी पर आ गया और 2.34 बजे ट्रेन फिर से रवाना हुई। इस घटना के बाद ट्रेन नंबर 11014 कोयम्बटूर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस मुंबई ट्रेन वाया सेलम, तिरुपत्तूर, बंगारपेट, बेंगलूरु सिटी होकर चली। रेलवे इंजन के पटरी से उतरने की घटना की जांच कर करेगा। यह ट्रेन काफी लोकप्रिय मानी जाती है जो बेंगलूरु सिटी से सुबह 7.17 बजे रवाना होती है और पुद्दुचेरी के कराइकल रात 10.40 बजे पहुंचती है। बेंगलूरु से होसूर जाने वाले काफी यात्री इस ट्रेन से सफर करते हैं।

Rajeev Mishra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned