बेंगलूरु. राज्य में बंद समर्थकों व विरोधियों के बीच झड़प और पथराव की छिटपुट घटनाओं को छोड़कर बंद शांतिपूर्ण रहा। राज्य में बंद का मिला-जुला असर रहा लेकिन बसों के पहिए थम जाने के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ। सरकारी परिवहन निगमों के साथ ही निजी बसों का भी परिचालन नहीं हुआ। हालांकि, ट्रेनों के परिचालन पर बंद का कोई असर नहीं पड़ा। बेंगलूरु में बसें नहीं चली लेकिन मेट्रो रेल की सेवा आम दिनों की तरह ही रही। बेंगलूरु सहित पूरे राज्य में बाजार और छविगृह बंद रहे। राज्य के अधिकांश जिलों में पहले से ही शिक्षण संस्थानों मेें अवकाश घोषित था। शाम ४ बजे के बाद बसों का परिचालन शुरू हुआ। सरकारी दफ्तर और बैंक आम दिनों की तरह खुले रहे।
मेंगलूरु में कुछ बंद समर्थकों ने बस पर पथराव कर दिया जबकि उडुपी में भाजपा और कांग्रेस समर्थकों के बीच बाजार बंद कराने को लेकर भिड़ंत हो गई। झड़प में भाजपा जिलाध्यक्ष सहित कई कार्यकर्ताओं को चोटें आई। इस घटना के बाद उडुपी में मंगलवार सुबह 6 बजे तक के लिए धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लगा दी गई।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned