वकीलों ने किया हाई कोर्ट के सामने प्रदर्शन

वकीलों ने किया हाई कोर्ट के सामने प्रदर्शन

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Sep, 01 2018 12:44:55 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

वामपंथी कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी का किया विरोध

सरकार भले ही अपने विरोधियों को टारगेट कर रही है लेकिन वे यह संदेश देना चाहते हैं कि चुप नहीं बैठेंगे

बेंगलूरु. वामपंथी मानवाधिकार कार्यकर्ता सुधा भारद्वाज, वेरनॉन गोन्साल्वेस, गौतम नवलखा, वरवर राव और अरुण परेश की गिरफ्तारी के खिलाफ देश के अन्य शहरों के साथ-साथ बेंगलूरु में भी विरोध प्रदर्शन हुआ।

यहां शुक्रवार सुबह हाईकोर्ट के बाहर 'पिपुल्स लायर फोरम के वकीलों ने सरकार की इस कार्रवाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और नक्सली होने के आरोप में महाराष्ट्र पुलिस द्वारा की गई गिरफ्तारी को सरकार की दमनकारी नीति बताया। फोरम से जुड़े 50 से अधिक सदस्यों ने इस विरोध प्रदर्शन में भाग लिया और गिरफ्तार कार्यकर्ताओं की तुरंत रिहाई की मांग की।

विरोध प्रदर्शन का आयोजन करने वाले अधिवक्ता मैत्रेयी कृष्णन ने कहा कि सरकार से मतभेद रखने वालों का यह सरासर अपमान है। अगर कोई भी सरकार के खिलाफ अपने मत व्यक्त करता है या अपनी आवाज उठाता है तो उसका यहीं हश्र हो रहा है। सरकार भले ही अपने विरोधियों को टारगेट कर रही है लेकिन वे यह संदेश देना चाहते हैं कि चुप नहीं बैठेंगे।

फेक चार्जेस और 'वी वांट जस्टिस जैसे नारे लिखे गए थे। कर्नाटक हाईकोर्ट के वकील एस.बालन ने कहा कि इन गिरफ्तारियों के पीछे आरएसएस का हाथ है। किसी भी मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए लेकिन पुलिस कानून अपने हाथ में ले रही है। यह सब संघ के इशारे पर हो रहा है।

उन्होंने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों के खिलाफ कोई भी सबूत नहीं है और जिस आधार पर उन्हें गिरफ्तार किया गया है वैसे प्रमाण तो किसी के भी खिलाफ तैयार किए जा सकते हैं। सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वालों को बिना सबूत टार्चर किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि गौतम नवलखा को इसके पूर्व कांग्रेस सरकार ने भी इसी तरह गिरफ्तार किया था, लेकिन अदालत में उनके ऊपर कोई आरोप ठहर नहीं पाया। लेकिन सरकार इसके बाद भी इस कानून का दुरुपयोग करने से बाज नहीं आ रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned