scriptकर्नाटक सरकार का फैसला: बाल सुरक्षा देखभाल केंद्रों पर नहीं मनाया जाएगा जन्मदिन | Birthdays will not be celebrated at Karnataka Kabal Security Care Centres | Patrika News
बैंगलोर

कर्नाटक सरकार का फैसला: बाल सुरक्षा देखभाल केंद्रों पर नहीं मनाया जाएगा जन्मदिन

सरकार का तर्क है कि बाल देखभाल संस्थानों में गरीब, अनाथ और आश्रित बच्चे आते हैं। ऐसे बच्चे अपना जन्मदिन नहीं मना सकते। लेकिन जब किसी अन्य व्यक्ति को वे जन्मदिन मनाते हुए देखते हैं तो उनके आत्मसम्मान को ठेस लग सकती है।

बैंगलोरJun 20, 2024 / 08:49 pm

Sanjay Kumar Kareer

hbd-ban
बेंगलूरु. सरकारी सहायता प्रप्त पुनर्वास केंद्र और प्राइवेट बाल देखभाल संस्थान चलाने वाले स्कूलों में जन्मदिन मनाने पर रोक लगाने के आदेश जारी किए गए हैं। यह फैसला स्टाफ सदस्यों, अधिकारियों, मशहूर हस्तियों, गणमान्य व्यक्तियों, बच्चों और अन्य व्यक्तियों पर लागू होगा।
कर्नाटक सरकार ने यह फैसला उस समय लिया, जब कर्मचारी, अधिकारी और अन्य लोगों को बाल देखभाल संस्थान, अनाथालय आदि में जन्मदिन मनाते हुए पाया गया। ये लोग बाल देखभाल संस्थानों में बच्चों के साथ केक काटते हैं और मिठाई खिलाते हैं।
इस फैसले के पीछे कर्नाटक सरकार का तर्क है कि बाल देखभाल संस्थानों में गरीब, अनाथ और आश्रित बच्चे आते हैं। ऐसे बच्चे अपना जन्मदिन नहीं मना सकते। लेकिन जब किसी अन्य व्यक्ति को वे जन्मदिन मनाते हुए देखते हैं तो उनके आत्मसम्मान को ठेस लग सकती है।
तर्क ये है कि भव्य तरीके से मनाए गए जन्मदिनों की तुलना करना किसी ऐसे बच्चे के मन को ठोस पहुंचा सकती है जो गरीब तबके से आता हो। इससे उसके मानसिक स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए, यह आदेश ऐसे बच्चों के भावनात्मक स्वास्थ्य की रक्षा के लिए एक कदम के रूप में आया है, जिससे बच्चे खुद को अलग-थलग या वंचित महसूस न करें।
राज्यव्यापी प्रतिबंध पर के बारे में वरिष्ठ अधिकारी कावेरी ने कहा कि यह आदेश नियमित स्कूलों के लिए नहीं है। उन्होंने कहा कि इस नियम को सरकार द्वारा चलाए जा रहे बाल देखभाल आवासीय केंद्र के लिए लागू किया गया है, जहां अनाथ और निर्धन परिवार के बच्चे को शिक्षा और आवास मुहैया कराया जाता है।

Hindi News/ Bangalore / कर्नाटक सरकार का फैसला: बाल सुरक्षा देखभाल केंद्रों पर नहीं मनाया जाएगा जन्मदिन

ट्रेंडिंग वीडियो