नगर निगमों में भाजपा का दबदबा मगर ...

नगर निगमों में भाजपा का दबदबा मगर ...

Kumar Jeevendra Jha | Publish: Sep, 04 2018 07:36:15 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

भाजपा को सिर्फ एक में बहुमत मिला है और बाकी दो में खंडित जनादेश आए हैं

मैसूरु, तुमकूरु में कांग्रेस और जद-एस गठजोड़ के पास बहुमत का आंकड़ा

बेंगलूरु. शहरी निकाय चुनाव में नगर निगमों में भाजपा का प्रदर्शन सत्तारुढ़ गठन के घटकों की तुलना में अच्छा रहा। हालांकि, तीन नगर निगमों- मैसूरु, तुमकूरु व शिवमोग्गा में से भाजपा को सिर्फ एक में बहुमत मिला है और बाकी दो में खंडित जनादेश आए हैं। पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येड्डियूरप्पा के गृह जिले शिवमोग्गा में भाजपा इस बार बहुमत के साथ सत्ता हासिल करने में सफल रही जबकि पिछले बार उसे सत्ता हासिल करने के लिए जद-एस का समर्थन लेना पड़ा था। अपने इस मजबूत राजनीतिक गढ़ में भाजपा नगर निगम की ३५ में से २० सीटें जीतने में सफल रही। जबकि कांग्रेस को ७ और जद-एस को २ सीटें मिली। ६ सीटों पर निर्दलीय जीते। इस बार के चुनाव में कांंग्रेस को ७ और जद-एस को ३ सीटों का नुकसान हुआ है।
कांग्रेस और जद-एस के मजबूत गढ़ माने जाने वाले मैसूरु में भी दोनों पार्टियों के अलग-अलग लडऩे का फायदा भाजपा को मिला। भाजपा इस बार ६५ में २२ सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है लेकिन बहुमत का जादुई आंकड़ा नहीं छू पाने के कारण उसे विपक्ष में बैठना पड़ेगा। मैसूरु नगर में कांग्रेस को १९, जद-एस को १८ और बसपा को १ सीट मिली है। पिछली बार की तुलना में भाजपा को १० सीटों का फायदा हुआ है जबकि कांग्रेस ३ और जद-एस २ सीटों का नुकसान हुआ है। पिछली बार मैसूरु में सत्ता के लिए भाजपा और जद-एस ने हाथ मिला लिए थे। इस बार कांग्रेस व जद-एस गठबंधन के पास बहुमत है। उपमुख्यमंत्री डॉ जी परमेश्वर के गृह जिले तुमकूरु में भी भाजपा ने सत्तारुढ़ गठबंधन के घटकों की तुलना में अच्छा प्रदर्शन किया। ३५ में से १२ सीटें जीत का भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी लेकिन गठबंधन को घटकों को २० सीटें मिलने के कारण उसे विपक्ष में बैठना पड़ेगा। कांग्रेस और जद-एस को १०-१० सीटें मिली हैं। तीन सीटों पर निर्दलीय जीते हैं। पिछली बार भी यहां कांग्रेस और जद-एस गठबंधन के पास सत्ता थी। इस बार के चुनाव में कांग्रेस को २ और जद-एस को ३ सीटों का नुकसान उठाना पड़ा है,भाजपा को ४ सीटों का फायदा हुआ।

Ad Block is Banned