अगले महीने राज्य में बनेगी भाजपा की सरकार: अशोक

अगले महीने राज्य में बनेगी भाजपा की सरकार: अशोक

Shankar Sharma | Publish: Oct, 14 2018 12:30:02 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

पार्टी आलाकमान ने राज्य में भाजपा सरकार बनाने की अनुमति दी है। नवंबर तक गठबंधन सरकार के पतन के साथ भाजपा सरकार का आना तय है।

बेंगलूरु. पार्टी आलाकमान ने राज्य में भाजपा सरकार बनाने की अनुमति दी है। नवंबर तक गठबंधन सरकार के पतन के साथ भाजपा सरकार का आना तय है। भाजपा नेता आर.अशोक ने यह बात कही। उन्होंने गुरुवार को कहा कि अगर 37 विधायकों के साथ एचडी कुमारस्वामी मुख्यमंत्री बन सकते है तो 104 विधायकों वाली भाजपा को भी सरकार बनाने के सपने देखने का अधिकार है। हम संन्यासी नहीं हैं। सत्ता पाने के लिए भाजपा हरसंभव प्रयास करेगी।


अशोक ने कहा कि जब कोई विधायक भाजपा में शामिल होता है तो उसे मीडिया ऑपरेशन कमल का नाम दे देती है। लेकिन जब किसी भाजपा के सदस्य को कांग्रेस या जद (एस) अपन पार्टी में शामिल करने का प्रयास करते हंै तो इसे कोई नाम नहीं दिया जाता। भाजपा ने कोई ऑपरेशन कमल शुरू नहीं किया है। गठबंधन सरकार बनने से असंतुष्ट कई विधायक तथा वरिष्ठ नेता भाजपा के संपर्क में है। उन्होंने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष बीएस येड्डियूरप्पा ने अगले माह राजनीतिक गतिविधियां तेज होने से श्रीरामुलु तथा उन्हें (अशोक) को लोकसभा का उपचुनाव नहीं लडऩे को कहा है।

सेवानिवृत प्रशासनिक अधिकारी को मंड्या से उतारेगी भाजपा
बेंगलूरु. भाजपा मण्ड्या लोकसभा उपचुनाव में एक पूर्व नौकरशाह को उतारेगी। गुरुवार को पार्टी में शामिल होने के साथ ही भाजपा ने उक्त अधिकारी को टिकट देने की भी घोषणा कर दी। भारतीय राजस्व सेवा के सेवानिवृत अधिकारी डॉ सिद्धरामय्या गुरुवार भाजपा में शामिल हुए। उनके पिता दोड्डबोरे गौड़ा मंड्या तथा श्रीरंगपट्टण क्षेत्र के विधायक थे।

मनुष्य भव का हमें करना चाहिए सदुपयोग
हुब्बल्ली. नवरात्रि के उपलक्ष्य में हुबली के वरूर के निकट स्थित छब्बी गांव के भगवान शांतिनाथ मंदिर में देवी का विशेष शृंगार किया गया। प्रतिमा अलंकार व आराधना कार्यक्रम का उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर देवेंद्रप्पा कागे ने कहा कि मनुष्य जन्म बड़ी मुश्किल से मिलता है।

यह जो मनुष्य भव हमें मिला है उसका सदुपयोग करना चाहिए। धार्मिक कार्यक्रम जैसे देवी की आराधना व पूजा कार्यक्रमों में भाग लेकर पुण्य अर्जित करना चाहिए। इस अवसर पर शांतप्पा हनमक्कनवर, चंद्रप्पा चिंचली, वर्धमान हुल्लंबी, शिवराज हनमक्कनवर, उषा बोंदोडे, सुद्रम्मा उपाध्ये, शांतम्मा मनसाली सहित श्रावक-श्राविका उपस्थित थे।

Ad Block is Banned