गठबंधन की राजनीति से कर्नाटक को मुक्ति दिलाना चाहती है भाजपा

गठबंधन की राजनीति से कर्नाटक को मुक्ति दिलाना चाहती है भाजपा

Shankar Sharma | Publish: Jun, 24 2019 11:23:54 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

भाजपा ने कर्नाटक को कांग्रेस व जनता दल-एस गठबंधन की राजनीति से मुक्ति दिलाने का संकल्प लिया है। राज्य में मध्यावधि चुनाव करवाने का फैसला करना किसी पार्टी का काम नहीं होता।

बेंगलूर. भाजपा ने कर्नाटक को कांग्रेस व जनता दल-एस गठबंधन की राजनीति से मुक्ति दिलाने का संकल्प लिया है। राज्य में मध्यावधि चुनाव करवाने का फैसला करना किसी पार्टी का काम नहीं होता। 105 विधायकों वाली भाजपा सत्ता की कमान संभालने के लिए तैयार है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव व पार्टी के प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव ने यह बात कही।

यहां शनिवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में सदस्यता अभियान को लेकर आयोजित कार्यशाला में उन्होंने कहा कि आम चुनाव में राज्य की जनता ने भाजपा के पक्ष में जनादेश देकर अपना मानस स्पष्ट किया है। उन्होंने कहा कि जिस अधिकारी को लॉटरी के अवैध कारोबार के समर्थन के कारण सेवा से निलंबित किया गया था, उसी अधिकारी को आज गठबंधन सरकार ने पदोन्नति देकर पुलिस आयुक्त बनाया है।

इससे स्पष्ट होता है कि गठबंधन सरकार भ्रष्ट अधिकारियों की रक्षा करने के लिए किस हद तक जा सकती है। कांग्रेस के विधान परिषद सदस्य गोविंदराजू की डायरी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि अभी इस मामले की जांच करने से सरकार कतरा रही है। मौजूदा सरकार को सत्ता से हटाने के लिए भाजपा हर संभव प्रयास करेगी। राव ने कहा कि जीत का श्रेय पार्टी के बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं को जाता है।

इससे पहले राज्य में सदस्यता अभियान के दौरान राज्य में 81 लाख सदस्यों का पंजीकरण किया गया है। अब अगले माह 6 जुलाई से 11 अगस्त तक चलने वाले अभियान में और 36 लाख सदस्यों का पंजीकरण कर राज्य में 1 करोड़ 15 लाख से अधिक सदस्य बनाएं जाएंगे।


मध्यावधि चुनाव के नाम पर डरा रहे
प्रदेश अध्यक्ष बीएस येड्डियूरप्पा ने कहा कि अंतर्विरोध के कारण सरकार का पतन तय है। इसके बाद भाजपा सरकार बनाने को तैयार है। गठबंधन दलों के विधायकों को मध्यावधि चुनाव की बातें कर डराया जा रहा है। पहले गठबंधन दलों में मतभेद थे अब देवगौड़ा परिवार में ही मतभेद उभर रहे हैं। इसलिए गठबंधन सरकार की स्थिरता को लेकर एचडी देवगौड़ा तथा उनके पुत्र एचडी कुमारस्वामी अलग-अलग बयान दे रहे हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned