बीजेएस के कोरोना मुक्त अभियान का समापन कल केजीएफ में

तीस हजार गावों को कराया कोरोना मुक्त
सभा कल, संस्थापक मूथा शामिल होंगे
उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली पंचायतों को स्वास्थ्य ग्राम पुरस्कार

By: Yogesh Sharma

Published: 25 Sep 2021, 09:32 AM IST

बेंगलूरु. भारतीय जैन संघटना (बीजेएस) और कर्नाटक सरकार के सहयोग से 31 जिलों के तीस हजार गांवों को कोविड मुक्त करने की कवायद शुरू हो गई है। अभियान के लिए समर्थन जुटाने के उद्देश्य से रविवार को केजीएफ स्थित जैन कॉलेज में सभा होगी। सभा सुबह १० बजे शुरू होगी। इस अवसर पर मानद अतिथि के रूप में बीजेएस के संस्थापक शांतिलाल मूथा, राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र लुंकड़, कर्नाटक प्रभारी ओमप्रकाश लूणावत, कर्नाटक अध्यक्ष महावीर पारख, जैन ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन के चेयरमैन चैनराज छाजेड़, बीजेएस के राज्य कोविड फ्री विलेज परियोजना प्रमुख दिनेश पालरेचा, बीजेएसके राज्य परियोजना कमेटी सदस्य महेंद्र मुणोत, बीजेएस बेंगलूरु रीजन अध्यक्ष सुरेश कानूंगा, मंत्री शर्मिला मेहता, डिजास्टर प्रमुख कमलेश भंडारी तथा राज्य के सरकारी अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे।
हौसला बढ़ाने का होगा प्रयास
कर्नाटक प्रभारी ओमप्रकाश लूणावत ने बताया कि कोरोना संक्रमण का पता लगाने के साथ संक्रमितों का पता लगाकर जांच के साथ चिकित्सा उपलब्ध करवाने के लिए जिला व ताल्लुक प्रशासन को सहयोग देना भी कार्यक्रम का प्रमुख लक्ष्य रहेगा। बच्चों सहित अन्य लोगों के लिए आवश्यकतानुसार क्वारंटाइन व कोरोना देखभाल केंद्र स्थापित करने के लिए मदद की जाएगी।
बीजेएस बेंगलूरु रीजन अध्यक्ष सुरेश कानूंगा ने बताया कि चिकबल्लापुर के सभी तालुक, कोलार के सभी तालुक एवं बेंगलूरु ग्रामीण के सभी विभागों को इस परियोजना में शामिल किया गया है।
बीजेएसके राज्य परियोजना कमेटी सदस्य महेंद्र मुणोत ने बताया कि संस्थापक शांतिलाल मूथा ने राज्य में कुल सात सभाएं की। इनमें यादगिरी, होसपेट, बेलगावी, हुब्बल्ली तथा शनिवार को शिमोगा व मैसूरु में सभाएं होंगी। रविवार को अभियान का समापन केजीएफ में होगा। उत्तम बांठिया व विनोद पोरवाल ने बताया कि समूचे कार्यक्रम का आयोजन बेंगलूरु रीजन कर रहा है तथा क्रियान्वयन बीजेएस केजीएफ चेप्टर कर रहा है।
चार दिवसीय कार्यक्रम
कार्यक्रम के तहत उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली पंचायतों को स्वास्थ्य ग्राम पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। स्वयंसेवकों को प्रोत्साहित करने के लिए संस्थापक शांतिलाल मूथा रविवार तक स्वर्ण नगरी केजीएफ के दौरे पर रहेंगे। कार्यक्रम को सफल बनाने में देवेन्द्र तातेड़, अशोक बम्बोली एवं बेेंगूलरु रीजन की टीम व सदस्यों का विशेष श्रम रहा।

Yogesh Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned