कोरोना से मरे लोगों को एक ही गड्ढे में फेंक-फेंक कर दफनाया

वीडियो वायरल होने के बाद जांच के आदेश, जिला प्रशासन ने जताया अफसोस, माफी मांगी

By: Rajeev Mishra

Published: 30 Jun 2020, 07:56 PM IST

बेंगलूरु. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एक तरफ जहां मरीजों को अस्पतालों में बिस्तर नहीं मिल रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ मरने वालों का अंतिम संस्कार भी सम्मानपूर्व नहीं हो रहा है। स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिले बल्लारी जिले कोरोना संक्रमण से मरने वाले आठ लोगों के अंतिम संस्कार में प्रोटोकॉल के उल्लंघन का शर्मनाक मामला सामने आया है। वायरल वीडियो में स्वास्थ्यकर्मी एक-एक कर गड्ढे में लाश फेंक कर दफनाते नजर आ रहे हैं। इस वीडियो के सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है। प्रशासन ने आनन-फानन में जांच के आदेश देने के साथ ही टीम को बदल दिया है।

बल्लारी का ही प्रतिनिधित्व करने वाले स्वास्थ्यमंत्री बी.श्रीरामुलू ने घटना प्रकाश में आने के बाद जांच के आदेश दिए हैं। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में व्यक्तिगत सुरक्षा किट (पीपीइ किट) पहने कुछ स्वास्थ्य कर्मी एक गाड़ी में रखे कई लाशों को एक-एक कर एक बड़े गड्ढे में फेंक रहे हैं। इसके बाद इस गड्ढे को ढक दिया जाता है। शवों को पास ही खड़े एक वाहन से निकालकर लाया जा रहा है जो काली चादरों में लिपटे हुए हैं। शवों को गड्ढे में डालने के बाद अर्थमूवर के ढक दिया गया। वीडियो वायरल होने पर लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कार्रवाई की मांग की है। कथित तौर पर एक प्रत्यक्षदर्शी ने दावा किया है कि यहां एक-एक कर कुल 8 लाशों को दफना दिया गया।
बल्लारी के जिलाधिकारी एस एस नकुल ने भी कहा है कि उन्होंने इस वीडियो को देखा है। बल्लारी में मंगलवार को पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं। नकुल की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि वीडियो बल्लारी की है। उन्होंंने शवों के अंतिम के दौरान अपनाई गई प्रक्रिया पर अफसोस जताया है और जिला प्रशासन की ओर से माफी मांगी है। नकुल ने बताया कि जांच अतिरिक्त आयुक्त करेंगे और जितनी जल्दी हो सके जांच रिपोर्ट सौंपेंगे। उन्होंने कहा कि शवों के अंतिम संस्कार के लिए तैनात पूरी टीम को हटा दिया गया है और उसकी जगह नई टीम तैनात की गई है।

गौरतलब है कि सोमवार को बल्लारी में कोविड-19 से 12 लोगों की जान गई जबकि मंगलवार को भी 5 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। कुल मिलाकर जिले में अब तक 29 लोग इस महामारी का शिकार हो चुके हैं। इससे पहले पुदुचेरी में भी ऐसा ही एक वीडियो वायरल हुआ था। वीडियो में नजर आया था कि कोरोना से मृत व्यक्ति की लाश को फेंक कर दफनाया गया था। इस वीडियो के सामने आने के बाद हंगामा मच गया था। इस मामले के उजागर होने के बाद कुछ स्वास्थ्य कर्मचारियों को निलंबित भी किया गया था।

coronavirus
Rajeev Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned