scriptBrahmarshi Kumaraswamy told the importance of mantras | ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी ने बताया मंत्रों का महत्व | Patrika News

ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी ने बताया मंत्रों का महत्व

समागम में श्रद्धालुओं ने किया ध्यान
प्रिसेस गोल्फ में हुआ आयोजन

बैंगलोर

Published: June 28, 2022 08:27:29 am

बेंगलूरु. भगवान लक्ष्मीनारायण धाम की समागम आयोजन समिति की ओर से पैलेस ग्राउंड के प्रिंसेस गोल्फ में रविवार को प्रभु कृपा दुख निवारण समागम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर बेंगलूरु सहित समूचे कर्नाटक, उत्तरप्रदेश, हरियाणा, पंजाब, असम, आन्ध्रप्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र व गुजराज से काफी संख्या में श्रद्धालुओं ने समागम में भाग लिया। देश के विभिन्न हिस्सों से आए अनुयायियों ने समागम ने जुडऩे के बाद उनके स्वयं व परिवार में हुए बदलाव के बारे में अपने अनुभव साझा किए। ब्रह्मऋषि कुमार स्वामी ने उपस्थित सभी श्रद्धालुओं को ध्यान का अभ्यास कराया। ध्यान के बाद उपस्थित श्रद्धालुओं ने एक बार फिर अपने अनुभव साझा किए। समागम शाम करीब छह बजे शुरू हुआ जो मध्यरात्रि बाद तक जारी रहा।

ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी ने बताया मंत्रों का महत्व
ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी ने बताया मंत्रों का महत्व
ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी ने बताया मंत्रों का महत्वरात करीब साढ़े आठ बजे ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी पैलेस ग्राउंड के प्रिंसेस गोल्फ पहुंचे। वहां उनका पारम्परिक तरीक से स्वागत किया गया। इसके बाद वे विश्राम के लिए गए। रात करीब दस बजे स्वामी मंच पर आए और पूजा अर्चना के बाद आयोजित धर्मसभा को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि मां दुर्गा निराकार रूप में सर्वव्यापक और सर्वशक्तिमान है। भगवान शिव का कथन है कि जो प्राणी मेरी शरण में आ जाता है, उसका कल्याण तो हो जाता है साथ ही वह दूसरों को शरण देने वाला भी हो जाता है। जो मनुष्य इसका पाठ करते हैं उसे आरोग्य, ऐश्वर्य, धन-संपदा, यश-कीर्ति आदि की प्राप्ति होती है, तथा उसके दुख तत्क्षण दूर हो जाते हैं। जो मनुष्य कृष्णपक्ष की अष्टमी व चतुर्दशी को अपना सब कुछ मां को अर्पण कर प्रसाद रूप में ग्रहण करता है उस पर मां भगवती प्रसन्न होती है। जब तक यह पृथ्वी रहती है तब तक उसकी पुत्र-पौत्र आदि परंपरा बनी रहती है और वह मोक्ष को प्राप्त हो जाता है। मां दुर्गा की कृपा से साधक को हर क्षेत्र में विजय प्राप्त होती है। उसे यश-कीर्ति, ऐश्वर्य, धन-संपदा प्राप्त होती है। उसकी कभी अकाल मृत्यु नहीं होती। देवताओं को भी दुर्लभ इस पाठ के जाप से समस्त मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी ने बताया मंत्रों का महत्वस्वामी ने कहा कि भगवती मां दुर्गा आदि सनातन शक्ति है। तदनुसार हमारा धर्म और संस्कृति भी सनातन है। मां दुर्गा ने भगवान ब्रह्मा, भगवान विष्णु, भगवान महेश को बनाया है और समस्त कीटाणुओं और जीवाणुओं को बनाने वाली तथा नष्ट करने वाली भी ये ही है। जितने भी रोग उत्पन्न होते हैं वे सब इन्हीं कीटाणुओं व जीवाणुओं के द्वारा ही होते हैं। समस्त विश्व के वैज्ञानिक इस बात से चिंतित हैं कि इन खतरनाक रोगाणुओं को कैसे रोका जाए और कैसे नष्ट किया जाए। जैसा कि अभी कोरोना काल में हुआ कि समस्त विश्व के वैज्ञानिकों ने रात-दिन एक करके वैक्सीन बनाने का कार्य किया। उनके प्रयासों में कोई कमी नहीं रही लेकिन फिर भी कोरोना को पूर्णरूप से परास्त नहीं किया जा सका है। केवल मां दुर्गा के बीज मंत्रों की कृपा का नाम पाठ ही इसे पूर्णरूप से नष्ट कर सकता है।
भगवान लक्ष्मी नारायण धाम के महासचिव गुरुदास ने बताया कि कोरोना जैसे रोगों के कीटाणु पूरे विश्व के लिए घातक बन चुके हैं। इस तथ्य को अमेरिका जैसे बुद्धिजीवी और वैज्ञानिक देश ने अपनी खोज के द्वारा मान लिया है कि प्रभु कृपा बीज मंत्र किसी भी असाध्य रोग का निवारण करने में सक्षम है और उन्होंने इन्हें मान्यता भी प्रदान कर दी है। गुरुदास ने बताया कि पिछले दिनों ब्रह्मर्षि कुमार स्वामी को अमेरिका की यात्रा के दौरान वैज्ञानिक दृष्टिकोण वाली न्यूजर्सी सीनेट तथा जनरल असेंबली द्वारा ‘मास्टर ऑफ बीज मंत्र’ एवं ‘स्कॉलर ऑफ स्प्रिचुअल साइंस’ अवार्ड प्रदान किया गया। इन अद्भुत सम्मान पत्रों में बीज मंत्र का उल्लेख भी किया गया। बीज मंत्र की शक्ति का यह सशक्त प्रमाण है जिससे करोड़ों भाई-बहनों के दुख निवारण हुए हैं। अमेरिका जैसे वैज्ञानिक देश में बीज मंत्रों की शक्ति पर व्यापक रिसर्च हुआ है और अंतत: इसकी शक्ति को स्वीकार भी किया है।
हरियाणा के चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. जेएस ओबरॉय ने कहा कि वे गंभीर चर्मरोग से पीडि़त थे। उनका शरीर पूरा प्रभावित था। लेकिन शरण में जाने के बाद गुरु कृपा के चलते वे पूरह तरह स्वस्थ हो गए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu-Kashmir: पहलगाम में 39 ITBP जवानों ले जा रही बस खाई में गिरी, 6 जवान शहीद, अमित शाह ने जताया दुखBihar Cabinet: बिहार सरकार में 'बड़े भाई' की भूमिका में राजद, तेज प्रताप सहित ये 16 विधायक बने मंत्री, ये रही नीतीश कुमार की पूरी टीमकौन होगा बिहार का नेता प्रतिपक्ष: जेपी नड्डा की मौजूदगी में दिल्ली में बैठक, इन मुद्दों पर भी होगी चर्चाJammu-Kashmir: पहले नाम पूछा और फिर मार दी गोली, शोपियां में आतंकवादियों ने की एक और कश्मीरी पंडित की हत्याKejriwal Press Conference: केजरीवाल ने बताया कैसे बनेगा देश का हर गरीब अमीर, इन 4 बड़े कामों पर दिया जोरMumbai Rains: मुंबई और ठाणे में सुबह से हो रही तेज बारिश, कई जगहों पर जलभराव, जानें- लोकल ट्रेन और बेस्ट बस की स्थितितेज हवा और झमाझम बारिश से लखनऊ में ऐतिहासिक भूल भुलैया का गुम्बद गिरादलित वोट छिटकने का डर: डैमेज कंट्रोल में जुटे सत्ता-संगठन, आधा दर्जन मंत्रियों ने जालोर में डेरा डाला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.